मुहर्रम के जुलूस में मची भगदड़, 31 लोगों की मौत, 100 से ज़्यादा घायल

मुहर्रम के जुलूस में मची भगदड़, 31 लोगों की मौत, 100 से ज़्यादा घायल

इराक के शहर कर्बला के एक प्रमुख धर्मस्थल में भगदड़ के दौरान कई शिया श्रद्धालुओं की मौत हो गई है. मुहर्रम के दौरान हुई इस घटना में मरने वालों की संख्या 31 पहुंच गई है. इसके अलावा कई लोग भगदड़ के दौरान घायल हो गए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस घटना में करीब 100 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए हैं.

श्रद्धालु आशुरा के जुलूस की ओर बढ़ रहे थे तभी भगदड़ मची और भीड़ बेकाबू हो गई. मुहर्रम के दिन हजारों लोग इस पवित्र शहर में शामिल होने के लिए इकट्ठे हुए थे. जिस जगह यह हादसा हुआ है, वह जगह बगदाद से करीब 80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.

मुहर्रम 10वां दिन जिसे रोज-ए-आशुरा कहते हैं. सबसे अहम दिन होता है. 1400 साल पहले मुहर्रम के महीने की 10 तारीख को ही इमाम हुसैन को शहीद किया गया था. उसी गम में मुहर्रम की 10 तारीख को ताजिए निकाले जाते हैं.

हाल के सालों में अशूृुरा जुलूसों पर चरमपंथी सुन्नी आतंकवादियों द्वारा हमला करने के कई मामले सामने आए हैं. मंगलवार को सब कुछ सामान्य रूप से चल रहा था तभी एक पैदल चलने वाला एक रास्ता क्षतिग्रस्त हो गया. कहा जा रहा है कि यह हादसा तब हुआ जब लोग इमाम हुसैन के मकबरे की ओर आगे बढ़ रहे थे.

इमाम हुसैन और उनके 72 साथियों की कुर्बानी की याद में ही मुहर्रम मनाया जाता है. मुहर्रम शिया और  सुन्नी दोनों समुदाय के लोग मनाते हैं. हालांकि, इसे मनाने का तरीका दोनों समुदायों में अलग-अलग होता है.

Top Stories