Monday , December 18 2017

मुक़ामी पॉलिसी पर 29 को झारखंड बंद

रांची : मुक़ामी पॉलिसी के मुद्दे पर मुखतलिफ़ आदिवासी मूलवासी अदारों की तरफ से 29 दिसंबर को झारखंड बंद का एलान किया गया है। बंद का फैसला मंगल को खादगढ़ा बस स्टैंंड वाकेय गेस्ट पैलेस होटल में मुनक्कीद अवामी अदारों की बैठक में लिया गया।
इससे पहले 16 दिसंबर को मुक़ामी पॉलिसी के ही मुद्दे पर एसेम्बली मार्च करने अौर 27 दिसंबर को आदिवासी मूलवासी जनाधिकार मंच का मिलन तकरीब हाइटेंशन ग्राउंड मोरहाबादी में करने का भी फैसला लिया गया। आदिवासी मूलवासी जनाधिकार मंच के चीफ़ कोंवेनर राजू महतो ने कहा कि झारखंड की तशकील अवामी मुद्दों को लेकर किया गया था। आज ये मुद्दे खत्म हो गये हैं।

मुक़ामी पॉलिसी हमारा कानूनी हक़ है अौर हम इसे लेकर रहेंगे। आदिवासी अवामी काउंसिल के वर्किंग सदर प्रेमशाही मुंडा ने कहा कि सरकार आदिवासी मूलवासी अवामी मुखालिफत पॉलिसी अपना रही है। वजीरे आला ने वादा किया था कि 15 नवंबर 2015 तक मुक़ामी पॉलिसी बनायेंगे, लेकिन यह अभी तक नहीं बन पायी है। सरकार ने आवाम को धोखा देने का काम किया है। आरपी साहू समेत दीगर लोगों ने भी खिताब किया।

इस मौके पर फूलचंद तिर्की, दीपक महतो, आजम अहमद, अभय भुंटकुंवर, अनथन लकड़ा, रवि पीटर, सरजू यादव, अरुण महतो, गोपाल महतो, शिवशंकर महतो, धर्मदयाल साहू, निरंजना हेरेंज, किष्टो कुजूर, मुन्ना टोप्पो, सुजीत गुप्ता, रवि राम, दीपक कुमार, गुलजार अहमद समेत दीगर मौजूद थे।

 

TOPPOPULARRECENT