Thursday , December 14 2017

मुख़ालिफ़ न्यूक्लियर जहद कारों की तरफ‌ से कडनकोलम प्रोजेक्ट‌ का बहरी मुहासिरा

अब जबकि कडनकोलम न्यूक्लियर पावर प्रोजेक्ट‌ को ख़त्म महिने तक चालू करदिए जाने की तवक़्क़ो है, मुख़ालिफ़ न्यूक्लियर जहदकारों ने अपने एहतिजाजों में शिद्दत पैदा करदी और आज समुंद्र की तरफ़ से इस प्लांट का मुहासिरा करलिया।

अब जबकि कडनकोलम न्यूक्लियर पावर प्रोजेक्ट‌ को ख़त्म महिने तक चालू करदिए जाने की तवक़्क़ो है, मुख़ालिफ़ न्यूक्लियर जहदकारों ने अपने एहतिजाजों में शिद्दत पैदा करदी और आज समुंद्र की तरफ़ से इस प्लांट का मुहासिरा करलिया।

आलमी यौम इंसानी हुक़ूक़ की निसबत से एहितजाजियों बिशमोल मछेरों ने तक़रीबन 200 कश्तीयों में इस प्लांट से 500 मीटर की दूरी पर रहते हुए बहरी मुहासिरा किया है।

पीपल्ज़ मूवमैंट अगेंस्ट न्यूक्लियर अनर्जी के कोऔरडिनेटर एस पी उदय कुमार ज़ेर क़ियादत एहितजाजियों ने स्याह पर्चम लहराए और नारेबाज़ी करते हुए इस मुतनाज़ा हिंद। रूसी प्लांट को ख़त्म करदेने का मुतालिबा किया।

ताहम रिपोर्टस में कहा गया कि इस एहतिजाज पर माही गीर बिरादरी का रद्द-ए-अमल गुज़िश्ता के एहतिजाजों के मुक़ाबिल फीका रहा। ये इस तरह का तीसरा एहतिजाज है जबकि मुख़ालिफ़ न्यूक्लियर जहदकार अपने ख़िलाफ़ दर्ज केसों से दसतबरदारी पर भी ज़ोर देते रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT