Tuesday , December 12 2017

मुख़्तार अंसारी का बेटा आज़मगढ़ से लड़ सकता है चुनाव, मायावती की हाँ का इंतज़ार

मऊ सदर विधायक मुख़्तार अंसारी ने अपने बेटे को राजनीति में पूर्ण रूप से स्थापित करने की जुगत में हैं| इसलिए मंगलवार को मायावती की रैली में मुख़्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने जी जान लगा दी| इसके बाद इस बात की चर्चा की जा रही है कि मायवती की तरफ से उन्हें इस मेहनत का फल मिल सकता है| हालाँकि अब्बास अंसारी ने पिछले विधानसभा से ही राजनीति की शुरुआत की उन्होंने घोसी विधानसभा से चुनाव लड़ा लेकिन सफलता नहीं मिली| उसके बाद भी अब्बास अंसारी राजनीति से जुड़े रहे और धीरे धीरे अपने आप को स्थापित करने के लिए लोगों से संपर्क में लग गए, पूरी मेहनत की जिसका नतीजा हमें बसपा सुप्रीमो मायावती की रैली में देखने को मिला|

बसपा को कई दिग्गजों ने छोड़ दिया है, जिसके बाद से बसपा कमजोर हो गयी है। बसपा सुप्रीमो मायावती भी इस बात को जानती है वह नगर निगम चुनाव के साथ बसपा को मजबूत करने में लगी है, जिससे संसदीय चुनाव में फिर से बसपा अपनी ताकत दिखा सके। बसपा के लिए मुख्तार अंसारी बड़ी ताकत बन गये हैं। वर्तमान समय में पूर्वांचल में बसपा के सबसे कद्दावर नेता बन चुके हैं। भीड़ जुटाने से लेकर फंड की व्यवस्था करना भी मुख्तार के जिम्मे है।

लोगों का मानना है की बसपा के टिकट पर मुख्तार अंसारी अपने बेटे अब्बास अंसारी को आजमगढ़ सीट से संसदीय चुनाव लड़ा सकते हैं| बस मायावती की हाँ का इंतज़ार है| इसके लिए ही अंसारी बंधुओं ने रैली को सफल बनाने में सारी ताकत लगायी है।

TOPPOPULARRECENT