मूसानदी की सफ़ाई-ओ-नई सूरत-गरी के लिए हिमुडा का प्रोजेक्ट

मूसानदी की सफ़ाई-ओ-नई सूरत-गरी के लिए हिमुडा का प्रोजेक्ट
Click for full image

गंदगी-ओ-ग़लाज़त से बुरी तरह आलूदा मूसानदी और इस के अतराफ़ के इलाक़ों की सफ़ाई-ओ-नई सूरत-गरी के लिए हैदराबाद मेट्रो डेवलपमेंट अथॉरीटी ( हिमुडा) ने 740 करोड़ रुपय की तुख़मीनी लागत से मूसानदी के तहफ़्फ़ुज़ का एक पुर अज़म प्रोजेक्ट शुरू करने का फ़ैसला किया है।

उसमानसागर और हिमायतसागर ता बापूघाट ( 21कीलो मीटर पट्टी ) और नाग़ूल ता गोरीली ( 15 कीलो मीटर पट्टी ) पर इस नदी और साहिल की सफ़ाई के लिए एक तफ़सीली तरक़्क़ीयाती प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार की जा चुकी है। हिमुडा की तजावीज़ , फ़ंडज़ की फ़राहमी के लिए दरियाओं के तहफ़्फ़ुज़ के क़ौमी डायरेक्टरेट को रवाना की जाएँगी।

मुसीनदी के किनारों पर सड़कों की तामीर के अलावा रबर डैम की तामीर का मन्सूबा भी ज़ेर-ए-ग़ौर है। हुकूमत तेलंगाना की तरफ से ये रिपोर्ट आखिर अगस्त में मर्कज़ी इदारे से रुजू की जाएगी। और इस पर ग़ौर-ओ-तौसीक़ के लिए 45 दिन दरकार होंगे। चुनांचे तवक़्क़ो हैके नवंबर से प्रोजेक्ट पर अमल आवरी का आग़ाज़ होगा।

Top Stories