Sunday , December 17 2017

मेंबर असेंबली चमरा ने ही पीटा था सिपाही को

रांची 10 जून : पुलिस की ताफ्सिश में असेंबली रुक्न चमरा लिंडा पर सिपाही उमानाथ से मारपीट के इलज़ाम को सही पाया गया है। मामले से मुताल्लिक ताफ्सिश रिपोर्ट सिटी एसपी मनोज रतन चौथे ने तैयार करवा कर सलाहकार के विजय कुमार के पास भेज दी है

रांची 10 जून : पुलिस की ताफ्सिश में असेंबली रुक्न चमरा लिंडा पर सिपाही उमानाथ से मारपीट के इलज़ाम को सही पाया गया है। मामले से मुताल्लिक ताफ्सिश रिपोर्ट सिटी एसपी मनोज रतन चौथे ने तैयार करवा कर सलाहकार के विजय कुमार के पास भेज दी है।

ताफ्सिश के दौरान 21 मई की रात असेंबली के गेट नंबर चार पर संतरी डय़ूटी में तैनात सिपाही उमानाथ साह, सिपाही परमानंद तिवारी समेत दीगर सिपाहियों को विधायक चमरा लिंडा की तसवीर दिखायी गयी, जिसके बुनियाद पर तमाम ने उमा नाथ के साथ मारपीट करनेवाले की पहचान विधायक चमरा लिंडा के तौर में की।

ताफ्सिश के दौरान असेंबली रुक्न चमरा लिंडा की मोबाइल का कॉल डिटेल रिकॉर्ड निकाला गया। वाकिया के दिन मोबाइल का आखरी लोकेशन पुंदाग पाया गया। हालांकि जांच के दौरान असेंबली रुक्न पर किसी तरह की कार्रवाई का फैसला नहीं लिया गया है। सिटी एसपी निगरानी रिपोर्ट के इंतजार में हैं। इसके बाद वह आगे की कार्रवाई के लिए फैसला लेंगे।

TOPPOPULARRECENT