मेजर बक्शी के नफरत भरे लेक्चर पर मद्रास IIT छात्र ने ज़तायी आपत्ति

मेजर बक्शी के नफरत भरे लेक्चर पर मद्रास IIT छात्र ने ज़तायी आपत्ति
Click for full image

आईआईटी मद्रास के एक स्टूडेंट ने मेजर जनरल जीडी बख्शी पर “नफरत को बढ़ावा देने वाला” और “छात्रों को हिंसा के लिए उकसाने वाला” लेक्चर देने का आरोप लगाया है।

एमटेक के स्टूडेंट अभिनव सूर्या ने संस्थान के डायरेक्टर को पत्र लिखकर ये आरोप लगाए हैं। बख्शी ने गुरुवार 11 अगस्त को एक्सट्रा म्यूरल लेक्चर श्रंखला के तहत स्वतंत्रता दिवस के मौके पर ये लेक्चर दिया था.

उनके लेक्चर का विषय था- भारतीय सेना का उत्थान और राष्ट्रीय सुरक्षा। अभिनव के अनुसार बख्शी ने लेक्चर में कहा कि देश की एकता को बढ़ावा देने का सबसे अच्छा तरीका है पाकिस्तान से युद्ध।

अभिनव ने आरोप लगाया कि मेजर जनरल बख्शी ने परमाणु हथियारों के इस्तेमाल को भी जायज ठहराया। अभिनव के अनुसार मेजर जनरल बख्शी ने ऐतिहासिक तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया, मिथकों का तथ्यों मानकर उनके हवाले से अवैज्ञानिक दावे किए, शहरों को जलाने का महिमामंडन किया। अभिनव के अनुसार मेजर जनरल बख्शी के भाषण से उनका एक खास राजनीतिक दल से जुड़ाव साफ झलक रहा था।
अभिनव के लिखे पत्र के अनुसार मेजर जनरल बख्शी ने अपने लेक्चर में कहा, “हमारी पीढ़ी ने पाकिस्तान को दो हिस्सों में बांट दिया। आपकी पीढ़ी को इसे चार हिस्सों में बांट देना चाहिए। तभी हम शांति से रह सकते हैं।”

अभिनव के पत्र के जवाब में संस्थान के निदेशक भाष्कर रामामूर्ति ने कहा कि लेक्चर को आयोजित करने वाली टीम उनकी शिकायत पर विचार करेगी और देखेगी क्या लेक्चर में हिंसा के लिए उकसाने के संदर्भ में कानूनी सीमा का उल्लंघन किया गया। निदेशक ने ये भी स्पष्ट किया ये लेक्चर संस्थान की तरफ से कराया गया आधिकारिक लेक्चर नहीं था।

Top Stories