Saturday , December 16 2017

मेदक ईदगाह पर ग़ैर मजाज़ क़ब्ज़ों को बर्ख़ास्त करने का मुतालिबा

मेदक ईदगाह कमेटी मेदक के अहम क़ाइदीन ख़्वाजा मुईन उद्दीन,सय्यद आरिफ़ उल्लाह हुसैनी और मुहम्मद आरिफ़ हुसैन ने स्पेशल वक़्फ़ बोर्ड ऑफीसर आंध्र प्रदेश मुहम्मद इक़बाल से हज हाउज़ में मुलाक़ात करते हुए मेदक ईदगाह पर ग़ैर मजाज़ क़ब्ज़ों को बर

मेदक ईदगाह कमेटी मेदक के अहम क़ाइदीन ख़्वाजा मुईन उद्दीन,सय्यद आरिफ़ उल्लाह हुसैनी और मुहम्मद आरिफ़ हुसैन ने स्पेशल वक़्फ़ बोर्ड ऑफीसर आंध्र प्रदेश मुहम्मद इक़बाल से हज हाउज़ में मुलाक़ात करते हुए मेदक ईदगाह पर ग़ैर मजाज़ क़ब्ज़ों को बर्ख़ास्त करवाने का मुतालिबा किया।

इस मौके पर ईदगाह की औकाफ़ी ज़मीनात की तफ़सीलात से मुहम्मद इक़बाल को वाक़िफ़ करवाते हुए कहा कि 2:01 एकड़ ईदगाह की ज़मीनात पर रेवेन्यू की तरफ से गै़रक़ानूनी पट्टा जात जारी किए गए हैं जबकि औकाफ़ी ज़मीनात को ना ख़रीदने और ना ही फ़रोख़त करने का इख़तियार महिकमा माल को हासिल है।

बावजूद इस के औकाफ़ी ज़मीनात का लिहाज़ किए बगै़र पट्टा जात जारी किए गए। मज़कूरा क़ाइदीन ने ईदगाह की मक़बूज़ा ज़मीन के असल काग़ज़ात स्पेशल ऑफीसर के हवाले करते हुए ग़ैर मजाज़ क़ब्ज़ों को बर्ख़ास्त करने का मुतालिबा किया और अपील की के इस ज़मीन के हुसूल के लिए वक़्फ़ बोर्ड की तरफ से ही मुक़द्दमा दर्ज किया जाये, क्युंकि अक्सर मुक़द्दमात में शहरीयों की तरफ से रुजू होने पर मालिक ज़मीन की अदम हाज़िरी का नुक़्ता लगाकर मुक़द्दमात को नाकाम कर दिया जा रहा है चुनांचे अदलिया के तक़ाज़ों के लिए ज़रूरी है कि वक़्फ़ बोर्ड ही ग़ैर मजाज़ क़ब्ज़ों को बर्ख़ास्त करने के लिए इक़दामात करे।

इस मौके पर ईदगाह कमेटी के क़ाइदीन ने स्पेशल ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड मुहम्मद इक़बाल से मेदक टाउन का दौरा करने की गुज़ारिश की चूँकि कई एक औकाफ़ी आराज़ीयात यहां या तो फ़रोख़त करदी गई हैं या फिर ग़ैरों का क़बज़ा है।

औकाफ़ी ज़मीनात अल्लाह की अमानत है जिस का तहफ़्फ़ुज़ हर मुस्लमान की ज़िम्मेदारी है जिस पर मुहम्मद इक़बाल ने दिल्ली दौरा के बाद मेदक की औकाफ़ी जायदादों के जायज़े के लिए दौरा करने का तीक़न दिया।

TOPPOPULARRECENT