Friday , December 15 2017

मेमो पर पारलीमानी पैनल का फ़ैसला काबिल-ए-क़बूल

ईस्लामाबाद। 8 जनवरी (पी टी आई) सदर-ए-पाकिस्तान आसिफ़ अली ज़रदारी ने कहा कि काफ़ी चर्चा में रहने वाले मुबय्यना मेमो जिस में पाकिस्तान में मुम्किना फ़ौजी बग़ावत को टालने अमरीका से तआवुन तलब किया गया है, की इफ़ादीयत के मुताल्लिक़ पा

ईस्लामाबाद। 8 जनवरी (पी टी आई) सदर-ए-पाकिस्तान आसिफ़ अली ज़रदारी ने कहा कि काफ़ी चर्चा में रहने वाले मुबय्यना मेमो जिस में पाकिस्तान में मुम्किना फ़ौजी बग़ावत को टालने अमरीका से तआवुन तलब किया गया है, की इफ़ादीयत के मुताल्लिक़ पारलीमानी पैनल के फ़ैसला को हुकूमत मन-ओ-एन क़बूल करेगी और इस तरह सुप्रीम कोर्ट के साथ मज़ीद एक टकराव का रास्ता अपनाया जा रहा है जो ख़ुद भी इस स्कैंडल की जांच पड़ताल कररहा है।

मुबय्यना मेमो के मुआमले पर फ़ौज और अदलिया की जानिब से दबाव में इज़ाफ़ा के बाद अपने पहले इंटरव्यू में मिस्टर ज़रदारी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट और पारलीमानी कमेटी बराए क़ौमी सलामती इस मुआमले की जांच पड़ताल कररही हैं लेकिन उन की नज़र में पार्लीमैंट की एहमीयत ज़्यादा है। याद रहे कि मुबय्यना मेमो को गुज़श्ता साल मंज़रे आम पर लाया गया था। जीव न्यूज़ चिया नल से बात करते हुए उन्हों ने कहा कि दोनों ही फ़ैसले आने दीजिए लेकिन उन की नज़र में पार्लीमैंट बरतर है।

TOPPOPULARRECENT