Wednesday , December 13 2017

मेयर अफजल इमाम के खिलाफ अदम एतमाद की तहरीक गिरा एक वोट से बची कुरसी

मेयर अफजल इमाम की कुरसी बच गयी। उनके खिलाफ लाया गया अदम एतमाद तहरीक जुमेरात को सिर्फ एक वोट से गिर गया। ओपोजीशन ग्रुप को एतमाद पास कराने के लिए कम-से-कम 37 पार्षदों का हिमायत चाहिए था, लेकिन 36 वोट ही मिले। 72 रुकनी पटना मुंसिपल कॉर्पोर

मेयर अफजल इमाम की कुरसी बच गयी। उनके खिलाफ लाया गया अदम एतमाद तहरीक जुमेरात को सिर्फ एक वोट से गिर गया। ओपोजीशन ग्रुप को एतमाद पास कराने के लिए कम-से-कम 37 पार्षदों का हिमायत चाहिए था, लेकिन 36 वोट ही मिले। 72 रुकनी पटना मुंसिपल कॉर्पोरेशन में 44 पार्षद ही खुसुसि बैठक में मौजूद हुए, जिनमें 39 ने वोटिंग की।

36 ने तजवीज की हिमायत में वोट डाले, जबकि एक पार्षद ने क्रॉस वोटिंग करते हुए वोट तजवीज के ओपोजीशन में डाला। दो वोट टेक्निकल वजूहात से मंसूख हो गये। मेयर ग्रुप के 28 पार्षद बैठक में शामिल नहीं हुए।

11:25 बजे शुरू हुई कार्यवाही

एसकेएम हॉल के सभा हाल में अदम एतमाद पर डिप्टी मेयर रूप नारायण मेहता की सदारत में खुसुसि बैठक हुई। इसमें कमिश्नर कुलदीप नारायण भी शामिल रहे। बैठक सुबह 11 बजे मुकर्रर थी, लेकिन 11:10 बजे तक सिर्फ 44 पार्षद ही एवान में मौजूद हुए। बाद में 11:25 बजे बैठक की कार्यवाही शुरू हुई। एक घंटा अदम एतमाद तहरीक पर गौर होने के बाद 12:38 बजे वोटिंग की अमल शुरू हुई।

इक्तिदार हक़ के सिर्फ पांच पार्षद

10:55 बजे तक मेयर अफजल इमाम के नहीं पहुंचने पर बहस शुरू हुई। इसी दरमियान मेयर अपने चार हिमायत पार्षदों के साथ एवान में हाजिर हुए। अदम एतमाद तहरीक के हक़ में दस्तखत करनेवाले तोता चौधरी, मनोज जायसवाल, संजय कुमार और शिव मेहता भी शामिल थे। बैठक में 44 पार्षदों ने हाजिरी बनायी। वार्ड दो के पार्षद दीपक कुमार चौरसिया, वार्ड पांच की पार्षद हेमलता वर्मा, वार्ड 38 की पार्षद सुषमा साहू और वार्ड 60 के पार्षद बलराम चौधरी ने अदाम एतमाद तहरीक के हक़ में बोला। चारों का जवाब खुद मेयर ने दिया।

वोटिंग से मेयर ने किया इनकार

अदम एतमाद तहरीक पर बहस के बाद वोटिंग की अमल शुरू हुई। शहर कमिश्नर कुलदीप नारायण ने एवान में मौजूद पार्षदों को वोटिंग की अमल की जानकारी दी। वार्ड एक के पार्षद संजय कुमार सिंह ने पहले वोटिंग की और आखिरी में वार्ड 72 के वार्ड पार्षद सुधीर कुमार ने। एक बजे वार्ड 52 के वार्ड पार्षद होने के नाते मेयर की वोटिंग की बारी आयी, तो मेयर ने इनकार करते हुए कहा कि अमल जारी रखिए। इस तरह वार्ड 62 के पार्षद शिव मेहता और वार्ड 67 के पार्षद मनोज जायसवाल ने वोट देने से इनकार किया।

TOPPOPULARRECENT