Sunday , December 17 2017

मेरठ नगर निगम की बैठक,वंदेमातरम् के होने के बाद पहुंचे मुस्लिम पार्षद

मेरठ- नगर निगम की बैठक में वंदे मातरम् अनिवार्य होने के बाद सोमवार को पहली बैठक हुई । बैठक में वंदे मातरम् अनिवार्य करने के बाद विपक्षी पार्षदों ने विरोध किया। हालांकि विवाद से बचने के लिए बैठक में मुस्लिम पार्षद वंदे मातरम् के बाद पहुंचे। हालांकि बाकी पार्षदों ने इस बात का कोई विरोध नहीं किया । मेयर ने भी मुस्लिम पार्षदों को वंदे मातरम् होने के बाद दोबारा आने को कहा।

29 मार्च को महापौर हरिकांत अहलूवालिया ने तीखे शब्दों में कहा था कि अगर कोई वंदे मातरम् शुरु होने के पहले परिसर छोड़ देता है तो उसे वापस आने की इजाज़त नहीं होगी। हालांकि सोमवार को पार्षद शाहिद अब्बासी, आदिल अहमद और आरिफ़ अंसारी वंदे मातरम् खत्म होने के बाद बैठक में पहंचे जिसका किसी ने विरोध नहीं किया।

टाइम्स ऑफ़ इंडिया से बात करते हुए शहीद अब्बासी ने कहा कि हम किसी विवाद में पड़ना नहीं चाहते इसलिए हम बोर्ड की बैठक में वन्देमातरम् समाप्त होने के बाद बैठक में पहुंचे , अब्बासी ने कहाकि हम अपने पुराने स्टैंड पर कायम हैं। उनका कहना है कि राष्ट्रगीत का गान करने के लिए किसी को बाध्य नहीं किया जा सकता, राष्ट्रगान के समय वह सभी लोग मौजूद रहते हैं और राष्ट्रगान गाते भी हैं, क्योंकि राष्ट्रगान का सम्मान करना हर भारतीय की जिम्मेदारी है।

TOPPOPULARRECENT