Monday , January 22 2018

मेरठ में पुलिस ने गिरफ्तार किया 500 और 2000 के नए नकली नोट छापने वालों का गिरोह

उत्तर प्रदेश: नोटबंदी के बाद प्रधानमंत्री मोदी का कहना था कि उनके इस कदम से कालाधन बाहर आएगा और नकली नोट छापने वालों का काम भी बंद हो जायेगा। पाकिस्तान की तरफ से बढ़ रहे आतंकवाद और नकली करेंसी भारत में भेजे जाने पर विराम लगेगा। लेकिन इस से बिलकुल उल्ट नोटबंदी के बाद नए करेंसी के नकली नोट छपने लगे हैं।

इस संदर्भ में मेरठ में पुलिस ने एक गिरोह को पकड़ा है जो 500 और 2000 के नए नकली नोट छापता था। यूपी पुलिस ने एक एंडेवर कार से नई करेंसी के 2000 और 500 के 42 लाख रुपये मूल्य के नकली नोट बरामद किए। इसी कार में नेशनल लोकमत पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और किठोर विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी खुशी गांधी के साथ दो और लोग मौजूद थे। आपको बता दें की ये लोग स्केनर और प्रिंटर के जरिये नकली करेंसी छाप रहे थे और उन्हें कमीशन एजेंट के तौर पर लोगों तक पहुंचाते हैं। इसके बाद पुलिस ने अब तक खुशी के अलग-अलग ठिकानों पर छापे मारकर 9 लाख रुपए की करेंसी बरामद की है।

TOPPOPULARRECENT