Sunday , September 23 2018

‘मेरा शौहर दारोगा है, मुझे जान से मार देगा’

बांदा, 05 अप्रैल: उत्तर प्रदेश के बांदा में एक बीवी ने अचानक धावा बोलकर किराए के मकान में रह रहे अपने दारोगा दारोगा की जमकर फजीहत की। मारपीट भी हुई। मामला पुलिस चौकी पहुंच गया।

बांदा, 05 अप्रैल: उत्तर प्रदेश के बांदा में एक बीवी ने अचानक धावा बोलकर किराए के मकान में रह रहे अपने दारोगा दारोगा की जमकर फजीहत की। मारपीट भी हुई। मामला पुलिस चौकी पहुंच गया।

चौकी इंचार्ज ने समझा-बुझाकर दोनों को शांत किया। उधर, बीवी ने डीआईजी को अर्जी देकर दारोगा पर दहेज हरासानी, मारपीट के इल्ज़ाम लगाते हुए कत्ल का खद्शा जताई है।

लखनऊ रिहायशी इंदू मिश्रा ने जुमेरात को डीआईजी को दी अर्जी में कहा कि डेढ़ साल पहले उसकी शादी नायब इंसपेक्टर उमापति मिश्र से आर्य समाज मंदिर में हुई थी।

शादी के बाद से शौहर अकेले बांदा में रहते हैं। वह अक्सर उनके पास आती रही है। कुछ दिनों बाद शौहर का रवैया बदल गया। दहेज के नाम पर पांच लाख रुपए की मांग की।

बुध की शाम करीब सात बजे वह लखनऊ से आई और खुरहंड गांव (रेलवे स्टेशन) में एक मकान में रह रहे शौहर दारोगा के पास पहुंची।

इंदू का इल्ज़ाम है कि मकान मालिक, उसकी बीवी और लड़की ने मिलकर उसे लात-डंडों और घूंसों से मारापीटा और कान के बाला व पर्स छीन लिया। पर्स में 4500 रुपए थे। इंदू ने अपनी कत्ल होने की खदशा जताई है।

डीआईजी से शौहर उमापति मिश्रा और उस पर हमला करने वाले मकान मालिक व उसकी बीवी और बेटी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

उधर, दारोगा उमापति मिश्र ने फोन पर इल्ज़ाम लगाया कि इंदू बदमाश लेकर उसे मारने आई थी। उसका चाल-चलन गलत है। जो भी इल्ज़ाम लगा रही है पूरी तरह गलत और अपने बचाव के लिए हैं।

गौरतलब है कि उमापति मिश्र अतर्रा थाना इंचार्ज थे। बाद में उन्हें पुलिस लाइन में भेज दिया गया। हाल ही में वह कुंभ मेला ड्यूटी से लौटे हैं।

—————बशुक्रिया: अमर उजाला

TOPPOPULARRECENT