मेरी किताब सिर्फ राजनीतिक सफरनामा, बेवजह विवाद खड़ा किया जा रहा है- मारग्रेट अल्वा

मेरी किताब सिर्फ राजनीतिक सफरनामा, बेवजह विवाद खड़ा किया जा रहा है- मारग्रेट अल्वा
Click for full image

नई दिल्ली। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री माग्रेट अल्वा का कहना है कि उनकी आत्मकथा ‘करेज एंड कमिटमेंट’ में उन्होंने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी की कोई आलोचना नहीं की है। इसको लेकर जिस तरह का विवाद खड़ा किया जा रहा है उससे वह आहत हैं। उन्होंने बताया कि उन्होंने खुद इस किताब की पहली कॉपी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेंट की थी। इसके बाद ही यह किताब बाजार में आई। उन्होंने कहा कि उनके मन में कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर बहुत ज्यादा प्यार और सम्मान है।

अल्वा ने एक बयान जारी कर किताब को लेकर उठे विवाद पर अपनी सफाई देते हुए कहा कि इसमें सिर्फ मेरी कहानी है। एक अल्पसंख्यक और महिला होने के बावजूद अपने समय की अशांत राजनीति में मैं जिस तरह से टिकी रही, इस किताब में उन तथ्यों का जिक्र है। बयान में उन्होंने यह भी कहा कि वह एक मध्यमवर्गीय परिवार से आती थी और उन्हें किसी तरह का कोई समर्थन प्राप्त नहीं था।

Top Stories