Friday , December 15 2017

मेरी लड़ाई वजीरे आला नीतीश कुमार से : शाहनवाज

बिहार के वजीरे आला नीतीश कुमार पर भागलपुर के भाजपा एमपी शरीक क़ौमी तर्जुमान सैयद शाहनवाज हुसैन ने इतवार को जम कर निशाना साधा। वह इतवार को नयी दिल्ली से चार्टर्ड प्लेन से भागलपुर पहुंचे।

बिहार के वजीरे आला नीतीश कुमार पर भागलपुर के भाजपा एमपी शरीक क़ौमी तर्जुमान सैयद शाहनवाज हुसैन ने इतवार को जम कर निशाना साधा। वह इतवार को नयी दिल्ली से चार्टर्ड प्लेन से भागलपुर पहुंचे।
उन्होंने हवाई अड्डा पर सहाफ़ियों से कहा कि नीतीश कुमार ने कभी भी इत्तिहाद का अमल नहीं किया। उन्होंने 2009 में हुए लोकसभा इंतिख़ाब के दौरान भागलपुर में महज़ एक इंतिखाबी अवामी सभा को खिताब किया, जबकि मुंगेर में 12 और बांका में 11 सभाएं कीं।

उन्होंने सनोखर में सभा को खिताब किया, पर वहां से महज़ 14 फीसद वोट मिले। इसका सुबूत मेरे पास है। एमपी ने इल्ज़ाम लगाया कि वजीरे आला ने उन्हें हराने के लिए एड़ी-चोटी एक कर दी थी, पर यहां की आवाम ने उन्हें एमपी बनाया। उनकी सीधी लड़ाई नीतीश कुमार से है। इसलिए वह अपना ओपोजीशन लीडर उन्हें ही मानते हैं।

कहकशां जी को आवाम ने नकारा

कहकशां परवीन की तरफ से खुद पर इल्ज़ाम लगाये जाने के सिलसिले में एमपी ने कहा कि कहकशां जी को आवाम ने नापसंद किया और कांग्रेस के कद्दावर लीडर सदानंद सिंह को जीत दिलायी। उन्होंने कहा कि नीतीश जी टिकट दे रहे थे, पर कोई लेना नहीं चाह रहा था। इस वजह वह गुस्से में अनाप-शनाप बयान दे रही हैं। कांग्रेस की खिदमत लालू और नीतीश दोनों ने की है, अब देखते हैं कि किसको इसका फल मिलता है। एमपी के सेशन की बहस करते हुए उन्होंने कहा कि मर्कज़ में रूलर पार्टी के मेंबरान इवान नहीं चलने देते हैं।

वेल में आ कर हंगामा करते हैं। दूसरी तरफ उन्होंने कहा कि भाजपा तेलंगाना तामीर के हक़ में है। वह रियासत जब भी बनेगा, उसका हिमायत करेंगे। इस मौके पर एमपी तर्जुमान डॉ मृणाल शेखर, निरंजन साहा, प्रमोद प्रभात समेत दीगर भाजपा लीडर मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT