Monday , December 18 2017

मेरे किरदार को मुश्तबा बनाने की कोशिश : डाक्टर मोहम्मद इलियास रिज़वी

बे बुनियाद-ओ-मन घड़त इल्ज़ामात के ज़रीया बाअज़ लोग विजए बैंक के स्क़ाम और दीगर मुआमलात में मेरे किरदार को मुश्तबा बनाने की कोशिश कर रहे हैं ।इन कोशिशों में मसरूफ़ चंद नादहिंदा दुश्मन ये तसव्वुर कर रहे हैं कि बे बुनियाद इल्ज़ामात

बे बुनियाद-ओ-मन घड़त इल्ज़ामात के ज़रीया बाअज़ लोग विजए बैंक के स्क़ाम और दीगर मुआमलात में मेरे किरदार को मुश्तबा बनाने की कोशिश कर रहे हैं ।इन कोशिशों में मसरूफ़ चंद नादहिंदा दुश्मन ये तसव्वुर कर रहे हैं कि बे बुनियाद इल्ज़ामात के ज़रीया वो उन्हें सच्च साबित कर दिखाएंगे । डाक्टर मुहम्मद इलियास रिज़वी ( आई एफ एस ) ने आज तवील ख़ामोशी को तोड़ते हुए ये बात कही ।

उन्हों ने बताया कि कारपोरेशन की रक़म के तग़ल्लुब के मुआमला को उन्हों ने मंज़रे आम पर लाते हुए विजए बैंक में जमा करदा रक़ूमात को महफ़ूज़ करने के इक़दामात किये थे । उन्हों ने बताया कि अख़बारात में बाअज़ मफ़ादात हासिला की जानिबसे शाय की जाने वाली खबरें बिलकुल्लिया तौर पर बे बुनियाद हैं ।

डाक्टर मुहम्मद इलियास रिज़वी को ताहाल सी आई डी की जानिब से भी कोई तलबी नहीं हुई और सी आई डी अनक़रीब इस सिलसिला में अपनी रिपोर्ट पेश करने वाली है ।
डाक्टर मुहम्मद इलियास रिज़वी ने बताया कि वो अपनी साफ़-ओ-शफ़्फ़ाफ़ कारकर्दगी का रेकॉर्ड रखते हैं इसी लिये उन्हें अपने आला ओहदेदारों और हुकूमत से तवक़्क़ो है कि वो गैर जानिबदाराना तहकीकात के ज़रीया हक़ायक़ को मंज़रे आम पर लाएंगे ।।

TOPPOPULARRECENT