मेरे पति को अक्सर धमकियां मिलती थीं- शहीद इंस्पेक्टर की पत्नी

मेरे पति को अक्सर धमकियां मिलती थीं- शहीद इंस्पेक्टर की पत्नी

बुलंदशहर हिंसा में शहीद इंस्पेक्टर की पत्नी ने कहा है कि उनके पति के हत्यारों के मारे जाने पर ही उन्हें सही मायने में इंसाफ मिलेगा। एटा में शहीद इंस्पेक्टर का शव आज अंतिम संस्कार के लिए लाया गया जहां बेहद गमगीन माहौल में शहीद की पत्नी ने ये बातें कही।

इंस्पेक्टर सुबोध की पत्नी ने कहा , मेरे पति को अक्सर धमकियां मिलती थीं। वे बेहद इमानदारी से पूरी जिम्मेदारी के साथ काम करते थे। यह कोई पहली घटना नहीं है इससे पहले भी दो बार उन्हें बुलेट इंजरी हुई थी। लेकिन किसी ने उन्हें न्याय दिया। हमें न्याय तभी मिलेगा जब उनके हत्यारे को भी मारे जाएंगे।’

एटा में शहीद सुबोध का शव पहुंचते ही पूरे गांव के लोग शोक से भर उठे। इसी बीच कुछ परिजनों और ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बुलाने की मांग की।

इनका कहना था कि मुख्यमंत्री शहीद के परिजनों की सुध लेने नहीं आए और जबतक वे नहीं आएंगे तब तक शहीद सुबोध का अंतिम संस्कार नहीं होगा। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी परिजनों में समझाने-बुझाने में जुटे हैं।

इस बीच हिंसा मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की है। एफआईआर में योगेश राज का नाम सामने आया है।

बताया गया है कि पूरी घटना का मास्‍टरमाइंड योगेश राज था और उसी के नेतृत्‍व में भीड़ जमा हुई। इस बीच एडीजी इंटेलीजेंस एसके शिरोडकर अपनी टीम के साथ महाव पहुंचे। हर खेत का मुआयना कर रहे हैं जहां गौ अंश मिले थे।

साभार- ‘इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम’

Top Stories