Saturday , September 22 2018

मेरे परिवार के लोगों ने देश के लिए धन दौलत और जीवन लुटा दिया- सोनिया गांधी

नई दिल्ली। राहुल गांधी ने आज कांग्रेस अध्यक्ष पद की कमान संभालने के बाद बतौर पार्टी अध्यक्ष के रुप में अपना आखिरी भाषण देते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि 20 साल पहले मैंने इसी तरह से संबोधन किया था। उस वक्त भी मेरे हाथ कांप रहे थे।

राहुल को कांग्रेस का अध्यक्ष निर्वाचित होने पर बधाई देती हूं। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी से शादी के बाद मेरा राजनीति से परिचय हुआ है।

सोनिया गांधी ने कहा, ”मैं एक क्रांतिकारी परिवार में आई। इस परिवार के लोगों ने देश के लिए धन दौलत और जीवन लुटा दिया। इंदिरा जी ने मुझे बेटी की तरह स्वीकार किया।

जब इंदिरा जी की हत्या हुई तो मुझे लगा जैसे मेरी मां छीनी गई हों। इस हादसे ने मेरे जीवन को बदल डालाा। मैं खुद को, बच्चों को राजनीति से दूर रखना चाहती थी। लेकिन मेरे पति ने देश की जिम्मेदारी को समझकर प्रधानमंत्री पद ग्रहण कर लिया। उन दिनों मैंने पूरे देश का दौरा किया।”

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सामने नया दौर और उम्मीदें हैं। गांधी परिवार का हर सदस्य देश की आजादी के लिए जेल गया। इंदिरा ने उन्हें बेटी की तरह अपनाया। सोनिया ने कहा कि इंदिरा की हत्या ने मेरा जीवन बदल दिया।

मैं अपने पति और बच्चों को राजनीति से दूर रखना चाहती थी, लेकिन फिर मेरा सहारा, मेरे पति को भी मुझसे छीन लिया गया है, वो मेरे लिए बहुत मुश्किल दौर था।

TOPPOPULARRECENT