मेरे सपने में आए भगवान राम, रोकर दी मंदिर की दुहाई- वसीम रिज़वी

मेरे सपने में आए भगवान राम, रोकर दी मंदिर की दुहाई- वसीम रिज़वी

लखनऊ : शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने बीती रात उनके सपने में भगवान राम के आने और रो-रो कर राम मंदिर की दुहाई देने संबंधी अजीबो-गरीब बयान देकर एकबार फिर से मीडिया में छा गए हैं।

अकसर राम मंदिर को लेकर बयानबाजी करते नजर आने वाले वसीम रिजवी के मुताबिक भारत के कट्टरपंथी मुसलमान पाकिस्तान झंडे को अपने इस्लाम धर्म का झंडा बताना और उससे मोहब्बत करने को अपना ईमान समझते हैं और इसीलिए श्रीराम जन्मभूमि पर अपना बाबरी पंजा लेकर बैठे हुए हैं।

अयोध्या को ही भगवान श्रीराम का जन्मस्थान बताते हुए रिजवी ने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर पाकिस्तान से पैसे लेकर कांग्रेस के सहयोग से श्रीराम जन्मभूमि के मुद्दे को अदालतों में उलझाए रखने का आरोप लगाया। शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन ने शेर पढ़ते हुए तंज किया और कहा कि मौलवी के हर अमल का फिक्स अपना रेट है। कैसी टोपी, कैसी दाढ़ी सबका अपना पेट है।

अयोध्या में ज्लद ही भगवान श्रीराम के मंदिर के निर्माण का फैसले की वकालत करते हुए रिजवी ने कहा कि राम भक्तों के साथ-साथ अब लगता है कि भगवान श्रीराम भी उदास हो गए हैं। आपको बता दें कि वसीम रिजवी शूरू से अयोध्या में भगवान श्रीराम मंदिर के निर्माण की वकालत करते रहे हैं।

Top Stories