Monday , December 11 2017

मैंने कहा था दिक्कत जरूर होगी, लेकिन बेईमानों को नहीं छोड़ेंगे: नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली। जापान दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 500 और 1000 के नोट बंद किए जाने के मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी। मोदी ने जापान के कोबे में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि गड़बड़ी करने वालों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। इस दौरान मोदी अपने विरोधियों पर भी बरसे और जमकर कटाक्ष किया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क मसूह प्रदेश 18 के अनुसार लोगों की परेशानियों का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि आपको पता है कि आठ तारीख को अचानक 500 और 1000 के नोट बंद कर दिए गए। मैं सवा सौ करोड़ देशवासियों को सलाम करता हूं। घर में शादी है, माँ बीमार है, तकलीफ है और लोगों के मुंह में डाल-डाल कर पूछते हैं कि मोदी के खिलाफ कुछ बोलो। लेकिन लोगों ने इस फैसले को ऐसे स्वीकार किया है जैसे 2011 में जापान में लोगों ने स्वीकार किया। 5-5 घंटे लोग लाइनों में खड़े रहे। पाप करने वाले ज्यादा नहीं हैं। 5 लाख या 10 लाख और परेशानी 125 करोड़ को।
उन्होंने कहा, पहले गंगा जी में कोई चवन्नी नहीं डालता था, अब नोट बह रहे हैं। मुझे लोगों से इतना आशीर्वाद मिलेगा यह मैं कभी नहीं सोचा था। उसे गुप्त भी रखा था। हमारे देश में महिलायें कुछ बचाकर रखती हैं। वह ईमानदारी का पैसा होता है। हमने कह दिया कि अगर कोई महिला ढाई लाख रुपये बैंक में जमा करती है तो कोई टैक्स नहीं लगेगा।
मोदी ने कहा, कि दिक्कत तो होगी यह मुझे पता है। मैंने पहले ही दिन कहा था। जिन्होंने गड़बड़ की है उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा, चाहे जितने लोगों को सजा देनी पड़े। ईमानदार लोगों को बचाने के लिए मेरी सरकार सब कुछ करेगी, लेकिन बेईमानों से तो हिसाब करेंगे।

TOPPOPULARRECENT