Thursday , December 14 2017

मैंने कुछ गलत नही कहा : राहुल

Code of conduct की खिलाफवर्जी में उलझे कांग्रेस के नायब सदर राहुल गांधी ने इल्ज़ामात से इन्कार किया है। इलेक्शन कमीशन को भेजे गए आठ सफात (Pages) के जवाब में राहुल ने साफ किया कि उन्होंने एक पार्टी पर फिर्कापरस्ती फैलाने के इम्कान जताए हैं। चीफ इ

Code of conduct की खिलाफवर्जी में उलझे कांग्रेस के नायब सदर राहुल गांधी ने इल्ज़ामात से इन्कार किया है। इलेक्शन कमीशन को भेजे गए आठ सफात (Pages) के जवाब में राहुल ने साफ किया कि उन्होंने एक पार्टी पर फिर्कापरस्ती फैलाने के इम्कान जताए हैं। चीफ इलेक्शन कमीशन वीएस संपत ने कहा कि कमीशन जल्द से जल्द राहुल के जवाब पर अपना फैसला लेगा।

राहुल गांधी ने राजस्थान की एक जलसा ए आम में इल्ज़ाम लगाया था कि बीजेपी नफरत फैलाने की सियासत कर रही है। मुजफ्फरनगर दंगे का भी ठीकरा बीजेपी पर ही फोड़ते हुए उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ कुछ मुकामी मुस्लिम नौजवानो के राबिते में है। बीजेपी की शिकायत के बाद 31 अक्तूबर को कमीशन ने राहुल को पहले जाब्ता इख्लाकी की खिलाफवर्जी पाया था। बीजेपी ने इल्ज़ाम लगाया था कि राहुल मज़हबी बुनियाद पर लोगों को बांट रहे हैं।

नोटिस भेजकर कमीशन ने राहुल से जवाब मांगा था। राहुल की गुज़ारिश पर जवाब देने के लिए उन्हें चार दिन की राहत भी दी गई थी। जुमे की सुबह राहुल ने जवाब भेज दिया।

बहरहाल, माना जा रहा है कि राहुल आसानी से इस इल्ज़ाम से बरी नहीं हो पाएंगे। पिछले कई मामलों को देखते हुए कमीशन हर पहलू की जांच करने के बाद ही नोटिस भेजता है। सुबूत की बुनियाद पर अगर उसकी तरदीद न की जाए तो कमीशन उसकी मुज़म्मत कर दोबारा गलती न करने की वार्निंग देता है। बताते हैं कि जुमे के रोज़ को राहुल के लिखित जवाब पर कमीशन में बहस हुई। हालांकि, संपत ने कहा कि बहस अधूरी रही। उन्होंने कहा कि पूरी बहस के बाद जल्द से जल्द फैसला लिया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT