Monday , December 11 2017

मैंने कोई सरकारी मालूमात किसी को नहीं दी – हीलारी

मरीका की साबिक़ वज़ीरे ख़ारिजा हीलारी क्लिन्टन ने तस्लीम किया है कि उन्हों ने बहैसीयत अमरीकी वज़ीरे ख़ारजा अपने ज़ाती ई-मेल अकाऊंट को इस्तेमाल किया था। उन के एतराफ़ के बाद अब सवाल ये है कि क्या ऐसा कर के उन्हों ने अमरीकी क़्वानीन की ख़

मरीका की साबिक़ वज़ीरे ख़ारिजा हीलारी क्लिन्टन ने तस्लीम किया है कि उन्हों ने बहैसीयत अमरीकी वज़ीरे ख़ारजा अपने ज़ाती ई-मेल अकाऊंट को इस्तेमाल किया था। उन के एतराफ़ के बाद अब सवाल ये है कि क्या ऐसा कर के उन्हों ने अमरीकी क़्वानीन की ख़िलाफ़वर्ज़ी की है?

अमरीकी महकमा ख़ारजा हीलारी की जानिब से ज़ाती ई-मेल अकाऊंट के इस्तेमाल का मुम्किना तौर पर वफ़ाक़ी क़ानून की ख़िलाफ़वर्ज़ी के तौर पर जायज़ा ले रहा है। अमरीका में 2016 में होने वाले सदारती इंतिख़ाबात में हीलारी क्लिन्टन को डैमोक्रेटिक पार्टी के अहम दावेदारों में से एक समझा जा रहा है।

हीलारी की जानिब से ज़ाती ई-मेल के इस्तेमाल पर उन की हरीफ़ रिपब्लिकन पार्टी ही नहीं बल्कि उन की अपनी डैमोक्रेटिक पार्टी के कई रहनुमा भी हीलारी क्लिन्टन पर तन्क़ीद कर रहे थे कि वो इस सिलसिले में जवाब क्यों नहीं दे रही हैं।

ताहम उन्हों ने कहा कि अब पीछे मुड़ कर देखती हूँ तो लगता है कि बेहतर होता कि अगर मैं सरकारी ई मेल अकाऊंट का इस्तेमाल करती और दूसरा फ़ोन भी लेकर चलती, लेकिन उस वक़्त मेरे लिए ये बात मसअला ही नहीं थी। उन्हों ने कहा कि सरकारी मालूमात का तबादला उन्हों ने किसी के साथ नहीं किया।

TOPPOPULARRECENT