Saturday , December 16 2017

मैं अपने बयान पर कायम, नाकदीन ने मुझे सही साबित किया : आमिर

नई दिल्ली: अदम बरदाश्त (Intolerance) के मुद्दे पर बयान के बाद मुल्कभर में मचे बवाल के बीच फिल्म अदाकारा आमिर खान की सफाई आई है। आमिर ने कहा है कि न तो वह और न ही उनकी शरीक ए हयात का मुल्क छोडकर जाने का इरादा है। हमने ऐसा कभी नहीं सोचा और न ही मुस्तकबिल में सोचने वाले हैं।

मेरे नाकदीन मैं कहना चाहता हूं, मैं इस मुल्क से प्यार करता हूं और मुझे इस पर फख्र है, इसके लिए मझे किसी से सनद यानी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है।

आमिर ने अपने बयान में कहा कि सबसे पहले मैं आपको साफ साफ बता दूं कि ना तो मैं और ना ही मेरी बीवी का मुल्क छोडने का कोई इरादा है। हमने कभी नहीं कहा और न ही मुस्तकबिल में ऐसा कभी कहेंगे। जो कोई भी ऐसी बात कह रहा है या तो उसने मेरा इंटरव्यू सुना नहीं या फिर जानबूझकर मेरी बात को तोड मरोड कर पेश किया जा रहा है। मैंने हमेशा कहा कि हिंदुस्तान मेरा मुल्क है। मैं इससे प्यार करता हूं। मैं अपने आपको खुशकिस्मत समझता हूं कि मै यहां पैदा हुआ और मैं यहां रह रहा हूं।

आमिर ने आगे कहा, मैं अपने बयान पर कायम हूं, मुखालिफीन ने सही साबित की है मेरी बात।

आमिर ने कहा कि मैंने जो कुछ भी कहा मैं उस पर कायम हूं। जो लोग मुझे मुल्क का मुखालिफ कह रहे हैं, मैं उनसे कहना चाहूंगा कि मुझे हिंदुस्तानी होने पर फख्र है और मुझे इसके लिए किसी की इज़ाजत या सनद यानी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं। जो लोग मुझे मेरे दिल की बात कहने पर गालियां दे रहे हैं, इससे मुझे अफसोस दुख हुआ और इससे सिर्फ मेरी बात सही साबित हुई।

आमिर ने कहा कि जो लोग मेरे साथ खडे रहे, मैं उनका शुक्रिया अदा करता हूं। हमें इस मुल्क की उस खासियत और खूबसूरती को बरकरार रखना होगा, जिसके लिए हिंदुस्तान को जाना जाता है।

हमें मुल्क की (Integrity), तनावी (diversity), ज़ुबान , कल्चर ( शकाफ्त) , और तारीख को बचाना होगा।

TOPPOPULARRECENT