Thursday , December 14 2017

मैं झूठ नहीं बोलता जांच होगी : वजीरे आला

गुजिशता 18 अगस्त को वजीरे आला जीतन राम मांझी के पूजा करने के बाद मधुबनी के परमेश्वरी मंदिर को धुलवाने के मामले की आला सतही जांच का हुक्म दिया गया है। वजीरे आला ने तहक़ीक़ात का जिम्मा डिवीज़नल कमिश्नर और आइजी को सौंपा है। पीर को वजीरे आ

गुजिशता 18 अगस्त को वजीरे आला जीतन राम मांझी के पूजा करने के बाद मधुबनी के परमेश्वरी मंदिर को धुलवाने के मामले की आला सतही जांच का हुक्म दिया गया है। वजीरे आला ने तहक़ीक़ात का जिम्मा डिवीज़नल कमिश्नर और आइजी को सौंपा है। पीर को वजीरे आला ने कहा कि मैं ज़िंदगी में कभी भी झूठ नहीं बोल हूं। इतवार को कानकुनी वज़ीर रामलषन राम रमण ने मुझसे दो बार यह बात कही थी कि मंदिर में पूजा करने के बाद मंदिर को धुलवाया गया था। अब वह अपनी बात से क्यों मुकर रहे हैं, यह मुङो पता नहीं है।

वजीरे आला ने कहा कि इस मामले पर साबिक़ मरकज़ी वज़ीर देवेंद्र प्रसाद यादव ने भी मुङो फोन किया है। फिलहाल वह दिल्ली में हैं। उन्होंने भी बताया कि जब मैं उस मंदिर से पूजा कर लौटा था, तो आधे घंटे के अंदर उस मंदिर को धुलवाया गया था। इसकी जानकारी इलाक़े के कई लोगों (करीब 200) ने मुङो दी थी। वजीरे आला ने वाकिया की देर से खुलासा करने पर बताया कि उस वक़्त बिहार एसेम्बली इंतिख़ाब था, इसलिए पार्टी के मुफाद में मैंने कुछ नहीं कहा। इससे समाज में तशद्दुद की बात आती और एक तरह का टकराव हो सकता था। वजीरे आला ने कहा कि देवेंद्र प्रसाद यादव ने मेरे बयान का हिमायत किया है और मुङो इसे उजागर करने के लिए शुक्रिया भी दिया है। सीएम ने कहा कि इससे कोई तनाजे की बात नहीं है। अब तो तहक़ीक़ात का हुक्म दे दिया गया है। तहक़ीक़ात में जो भी मुजरिम पाये जायेंगे, उन पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। अब बस जांच रिपोर्ट का इंतजार है।

TOPPOPULARRECENT