मॉब लिंचिंग पर पीएम- हिंसा में किसी भी व्‍यक्ति की मौत दुर्भाग्‍यपूर्ण

मॉब लिंचिंग पर पीएम- हिंसा में किसी भी व्‍यक्ति की मौत दुर्भाग्‍यपूर्ण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर संसद हुई बैठक में मॉब लिंचिंग से हुई मौतों को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा कि मॉब लिंचिंग की घटनाएं निंदनीय है. उन्होंने कहा कि मॉब लिंचिंग की हिंसा से हुई किसी भी व्यक्ति की मौत दुर्भाग्यपूर्ण है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मॉब लिंचिंग की घटनाएं रोकने के लिए मैं राज्य सरकारों से अपील करता हूं कि राज्य सरकार ऐसी घटनाओं रोके.

इससे पहले राजनाथ सिंह लोकसभा में कहा था कि यह सचाई है कि कई प्रदेशों में मॉब लिंचिंग की घटनाएं घटी हैं. इसमें कई लोगों की जानें भी गई है. लेकिन ऐसी बात नहीं है कि इस तरह की घटनाएं विगत कुछ वर्षों में ही हुई हैं. पहले भी ऐसी घटनाएं हुई हैं. लेकिन ऐसी घटनाएं चिंता का विषय हैं.

उन्होंने कहा कि मॉब लिंचिंग में लोग मारे गए हैं, हत्या हुई और लोग घायल हुए हैं, जो किसी भी सरकार के लिये सही नहीं है. ‘‘ हम ऐसी घटनाओं की पूरी तरह से निंदा करते हैं.’’ गृह मंत्री ने कहा कि ऐसी घटनाएं अफवाह फैलने, फेक न्यूज और अपुष्ट खबरों के फैलने के कारण घटती हैं. ऐसे में राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है कि वे प्रभावी कार्रवाई करें क्योंकिकानून और व्यवस्था राज्यों का विषय है.

बता दें पिछले कुछ दिनों में वॉट्सऐप मैसेज की अफवाहों के चलते देश के कई हिस्‍सों में लोगों को मार डालने की घटनाएं सामने आई हैं. झारखंड, त्रिपुरा, उत्‍तर प्रदेश में भी अफवाहों के चलते भीड़ ने कई लोगों की जान ले ली. फर्जी वॉट्सऐप मैसेज के चलते एक साल में 29 लोगों की हत्याएं हो चुकी हैं. महज संदेह के आधार पर भीड़ ने 29 लोगों को मार दिया.

Top Stories