Sunday , July 22 2018

मोईन कुरैशी से दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा- ‘विजय माल्या की तरह मत बनिये’

नई दिल्ली। दिल्ली हाई कोर्ट ने आज विवादित मांस निर्यातक मोइन कुरैशी से कहा कि विजय माल्या की तरह व्यवहार मत कीजिए। अदालत ने उन्हें नवंबर के मध्य तक भारत वापस लौटने और उनके खिलाफ दर्ज धन शोधन मामले में पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ED) के समक्ष पेश होने का निर्देश दिया।

न्यायमूर्ति एके पाठक ने दुबई में मौजूद कुरैशी की वह याचिका ठुकरा दी जिसमें एजेंसी द्वारा गिरफ्तारी या किसी दंडात्मक कार्रवाई से 15 दिन के लिए अंतरिम संरक्षण का अनुरोध किया गया था। अदालत ने कहा, विजय माल्या की तरह व्यवहार मत कीजिए। अदालत ने कहा, कारोबारी विजय माल्या वाला रूख मत अपनाइए। आपको पहले पूछताछ के लिए पेश होना होगा। आप भारत में नहीं हैं। यह दिखाता है कि आप पेश नहीं होना चाहते। पहले आप देश वापस लौटें और पूछताछ में शामिल हों।

अदालत ने कहा कि वह किसी तरह का अंतरिम आदेश देने के पक्ष में नहीं है। उसने कहा कि वह कुरैशी के खिलाफ कोई दंडात्मक कदम उठाने से एजेंसी को रोकने नहीं जा रही। कुरैशी हाल में ईडी द्वारा उनके खिलाफ जारी लुकआउट सर्कुलर के बावजूद विदेश जाने में सफल रहे थे। अदालत ने कहा, आप उनके (प्रवर्तन निदेशालय के) समक्ष पेश हों। आपको गिरफ्तार करना या नहीं करना ऊनपर है। मैं कुछ नहीं कहने जा रहा हूं। अगर आप अपने खिलाफ कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं चाहते तो आप अंतरिम जमानत के लिए जाएं।

बहरहाल, अदालत ने ईडी द्वारा कुरैशी के खिलाफ उन्हें हिरासत में लेने के लिए जारी लुकआउट सर्कुलर पर 16 नवंबर तक रोक लगा दी और उन्हें 22 नवंबर को ईडी के समक्ष पेश होने का निर्देश दिया।

TOPPOPULARRECENT