Wednesday , January 24 2018

मोदीजी एक बार और योगा छोड़कर 3 महीनें से रोती नजीब की मां को उसका बेटा दिला दीजिए: NSUI

नई दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री मोदी ने सोशल मीडिया पर बताया था कि मुझे अपनी माँ की याद आ रही है इसलिए मैं एक दिन का योग छोड़ कर अपनी माँ से मिलने जा रहा हूँ। मोदीजी की इस हरकत पर लोगों ने काफी प्रतिक्रिया दी और ये मुद्दा पूरे दिन विपक्ष के हमलों से गूंजता रहा। गूंजता भी क्यों न आखिर मोदीजी ने काम ही ऐसा किया। माँ से मिलने गए तो उसका ढिंढोरा भी ट्विटर पीट दिया। जिसपर चुटकी लेते दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि मोदीजी ने अपनी मां को भी राजनीतिक इस्तेमाल के लिए रखा है।

उन्होंने नोटबंदी में अपनी बुजुर्ग मां को बैंक भेज दिया जिसके बाद आज मिलने का सारी दुनिया में ढिंढोरा पीट दिया। जबकि मैं रोजाना अपनी मां से मिलता हूँ उनसे आशीर्वाद लेता हूँ लेकिन मैं कभी इस तरह ट्विटर पर लिखकर सबको नहीं बताता हूँ। इसी बीच कांग्रेस की स्टूडेंट यूनिट नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया(एनएसयूआई) ने मोदीजी के ट्वीट पर सवाल पूछते हुए लिखा कि उन्होंने कहा कि, नरेंद्र मोदी सर, एक बार और अपना योगा छोड़ दीजिए और दिल्ली में दो-तीन महीनें से रोती नजीब की मां को उसका बेटा दिला दीजिए।
आपको बता दें कि दिल्ली के जेएनयू का होनहार छात्र नजीब अहमद 15 अक्टूबर 2016 से लापता है। नजीब की मां फातिमा अपने बेटे को वापिस पाने के लिए हर जगह दरख्वास्त कर रही है और रो रही है। लेकिन उसके बेटे का कोई अता-पता नहीं चल रहा है। दिल्ली पुलिस अभी तक न तो नजीब को खोज पाई न ही उसके आरोपियों को कोई ठोस सजा दिला पाई है।

TOPPOPULARRECENT