Tuesday , December 12 2017

‘मोदी अगर इमर्जेंसी भी लगा दें तो भी समर्थन करेंगे’

नई दिल्ली। ‘मोदी अगर इमरजेंसी भी लागू करदें तो भी हम उनका समर्थन करेंगे’ जी हां यह कहना है हमारे देश की जनता का, आपको बता दूं कि मशहूर लेखक चेतन भगत ने ट्विटर पर एक पोल कराया, जिसमें उन्होंने पूछा था कि अगर पीएम मोदी भ्रष्टाचार को पूरी तरह से खत्म करने और भ्रष्ट लोगों को सजा देने के लिए इमरजेंसी लागू करें तो क्या आप उन्हें समर्थन देंगे? इस पर 56 फीसदी लोगों ने कहा कि हां वो समर्थन करेंगे और 44 फीसदी ने कहा कि नहीं हम इसका समर्थन नहीं करेंगे।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

वहीं चेतन के एक अन्य पोल में उन्होंने पूछा था कि अगर आपके पास यह मौका हो कि आप मोदी को अपना नेता बनाए रखें, लेकिन कम लोकतंत्र के साथ, तो क्या आप उससे सहमत हैं? इस पर 55 फीसदी उनसे सहमत हैं औ 45 फीसदी का कहना है कि नहीं लोकतंत्र जरूरी है।

चेतन भगत ने लिखा है कि मोदी को इतना भारी समर्थन मिला हुआ है कि अगर वो भ्रष्टाचार के नाम पर इमरजेंसी लगा दें तो 56 फीसदी लोग उनका समर्थन करने को तैयार हैं। लिखा कि एक बड़ी संख्या में लोग लोकतंत्र को छोड़े देना चाहते हैं। स्पष्ट तौर पर, जो हमारे पास होता है, उसकी कीमत हमें पता नहीं होती। क्या लोग यह समझते हैं कि इसका क्या मतलब है?

उन्होंने आगे लिखा है कि गुरुओं और बाबाओं की धरती अपने मसीहा को प्यार करती है। अराजकता और लोकतंत्र पर विभिन्न मतों को स्वीकार करने से बहुत ज्यादा आसान है किसो को फॉलो कर लेना। लेकिन किसी नेता का अंधा समर्थन करना केवल देश और नेता को चोट पहुंचाता है। लोकतंत्र तब सही काम करता है जब सरकार जिम्मेदार हो।

इसके कुछ देर बाद चेतन भगत हैरान हो कर लिखते हैं कि ‘मैं एक कॉलम लिखने के लिए रिसर्च के तहत पोल कर रहा हूं। इसे मेरे विचारों का संकेत ना मानिएगा। मैं इन पोल्स के रिजल्ट्स देख कर चौंका हुआ हूं’।

TOPPOPULARRECENT