Saturday , December 16 2017

मोदी और केजरीवाल में कोई फ़र्क़ नहीं:कांग्रेस

आम आदमी पार्टी लीडर अरविंद केजरीवाल और बी जे पी वज़ारत अज़मी के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर तन्क़ीद करते हुए कांग्रेस ने आज कहा कि चीफ़ मिनिस्टर दिल्ली ने अपने क़ौमी अज़ाइम की ख़ातिर कुर्सी छोड़ी है जबकि गुजरात के लीडर को हनूज़ चीफ़ मिनिस्

आम आदमी पार्टी लीडर अरविंद केजरीवाल और बी जे पी वज़ारत अज़मी के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर तन्क़ीद करते हुए कांग्रेस ने आज कहा कि चीफ़ मिनिस्टर दिल्ली ने अपने क़ौमी अज़ाइम की ख़ातिर कुर्सी छोड़ी है जबकि गुजरात के लीडर को हनूज़ चीफ़ मिनिस्टर की कुर्सी अज़ीज़ है।

इन दोनों के मिज़ाज और लालच में कोई फ़र्क़ नहीं है। ए आई सी सी जनरल सेक्रेटरी इंचार्ज दिल्ली शकील अहमद ने ट्वीटर पर लिखा हैके केजरीवाल ने अज़ ख़ुद साबित कर दिया है कि उन्हें क़ौमी सियासत की लालच है और अपने क़ौमी अज़ाइम को पूरा करने के लिए स्तीफ़ा दे चुके हैं जबकि इस के बरअक्स नरेंद्र मोदी को हनूज़ चीफ़ मिनिस्टर कुर्सी अज़ीज़ है इस लिए दोनों की बातें यकसाँ हैं।

इन का ये तबसरा केजरीवाल के स्तीफ़ा के एक दिन बाद सामने आया है। उन्होंने इल्ज़ाम लाग‌या था कि जन लोक पाल को मंज़ूर ना कराने के लिए कांग्रेस और बी जे पी के दरमयांन गठजोड़ है। कांग्रेस क़ाइदीन निजी महफ़िलों में ये कह रहे हैं कि केजरीवाल की तवज्जा लोक सभा चुनाव पर है और इस लिए वो आम आदमी पार्टी के इंतिख़ाबी वादों को पूरा करने के लिए दिल्ली की हुकूमत में बरक़रार रह नहीं सकते थे।

असेंबली चुनाव से पहले जो वाअदे किए गए थे उन को पूरा करना मुश्किल होगया था। केजरीवाल के स्तीफ़ा से चंद दिन पहले शकील अहमद ने ट्वीटर पर लिखा था कि लोग कह रहे हैं कि कांग्रेस की ताईद के बावजूद आम आदमी पार्टी हुकूमत अक़लियती में आजाएगी तो आम आदमी पार्टी के चंद अरकाने असेंबली की तरफ से बाग़ियाना सरगर्मीयां हैं।

TOPPOPULARRECENT