Monday , December 11 2017

मोदी का इंतेख़ाबी कमेटी का सदर बनना ग़ैर यक़ीनी

क़ौमी नायाब सदर बी जे पी ईरानी का बयान, तौसीक़ या तरदीद से गुरेज़

क़ौमी नायाब सदर बी जे पी ईरानी का बयान, तौसीक़ या तरदीद से गुरेज़
पानाजी 8 जून (पी टी आई) नरेंद्र मोदी को बी जे पी के विज़ारत-ए-उज़मा के उम्मीदवार की हैसियत से ताईद हासिल होने के इमकानी इशारे मिल रहे हैं। पार्टी की क़ौमी नायाब सदर ईरानी ने आज कहा कि मुल्क गीर सतह पर पार्टी कारकुनों को यक़ीन है कि इनका इंतेख़ाब नरेंद्र मोदी ही होंगे।

अब ये फ़ैसला करना पार्लिमानी बोर्ड की ज़िम्मेदारी है। ईरानी ने कहा कि हम जानते हैं कि हिन्दुस्तान क्या चाहता है। हम ये भी जानते हैं कि बी जे पी कारकुनों की क्या ख़ाहिश है लेकिन हम ये नहीं जानते कि बी जे पी पारलीमानी बोर्ड क्या चाहता है। वो बी जे पी की क़ौमी आमिला के इजलास से क़बल इजलास के मुक़ाम से बाहर एक प्रेस कान्फ़्रैंस से ख़िताब कररही थीं।

नरेंद्र मोदी को पार्टी का विज़ारत-ए-उज़मा का उम्मीदवार नामज़द करने के बारे में सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने मज़कूरा बाला तबसरा किया। इस सवाल पर कि क्या नरेंद्र मोदी को बी जे पी की इंतेख़ाबी मुहिम कमेटी का सरबराह मुक़र्रर करने का कोई इमकान है। उन्होंने कहा कि हम इस इत्तिला की ना तौसीक़ करसकते हैं और ना तरदीद।

ज़राए इबलाग़ को क़ौमी आमिला के इजलास में जो भी मुबाहिस होंगे उनकी तफ़सीलात से वाक़िफ़ करवा दिया जाएगा। स्म्रती ईरानी ने कहा कि ज़राए इबलाग़ पूरे इजलास की कार्रवाई का अहाता करेंगे और उन्हें पता चल जाएगा कि लाल कृष्ण अडवाणी बमुक़ाबला नरेंद्र मोदी उनकी ग़ैर मुंसिफ़ाना ग़लतफ़हमी है। उन्होंने कहा कि बी जे पी का इजलास इंतेहाई ख़ुशगवार माहौल में मुनाक़िद किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT