Tuesday , December 12 2017

मोदी का दिमाग़ी अमराज़ के हस्पताल में ईलाज ज़रूरी ,शरद पवार का बयान

बी जे पी के विज़ारते उज़मी के उम्मीदवार पर तमाम हद तोड़ कर तन्क़ीद करते हुए सदर एन सी पी शरद यादव ने कहा कि नरेंद्र मोदी को दिमाग़ अमराज़ के दवाख़ाने में ईलाज करवाना चाहिए। क्योंकि आजकल वो बकवास कररहे हैं। बी एस पी के एक उम्मीदवार ने भी च

बी जे पी के विज़ारते उज़मी के उम्मीदवार पर तमाम हद तोड़ कर तन्क़ीद करते हुए सदर एन सी पी शरद यादव ने कहा कि नरेंद्र मोदी को दिमाग़ अमराज़ के दवाख़ाने में ईलाज करवाना चाहिए। क्योंकि आजकल वो बकवास कररहे हैं। बी एस पी के एक उम्मीदवार ने भी चीफ़ मिनिस्टर गुजरात को बरबर क़रार दिया था।

एन सी पी के उम्मीदवार विजय‌ भामबले की इंतेख़ाबी मुहिम के दौरान एक जल्सा-ए-आम से ख़िताब करते हुए मर्कज़ी वज़ीर-ए-ज़राअत मराठा मर्द आहन ने घानसवानगी के इलाक़े में जल्सा-ए-आम से ख़िताब करते हुए कहा कि एसा मालूम होता है कि नरेंद्र मोदी का दिमाग़ी तवाज़ुन बरक़रार नहीं रहा इस लिए वो ज़्यादा बकवास करने लगे हैं।

इनका दिमाग़ी अमराज़ के दवाख़ाने में ईलाज ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि मोदी जंग-ए-आज़ादी के दौरान कांग्रेस क़ाइदीन की क़ुर्बानीयों से नावाक़िफ़ हैं। वो कांग्रेस से पाक हिन्दुस्तान की बातें कररहे हैं। क्या मोदी जानते हैं कि जंग-ए-आज़ादी में कांग्रेस ने कितना हिस्सा अदा किया है।

कांग्रेस के नज़रिये की वजह से ही हिन्दुस्तान को आज़ादी हासिल हुई थी 2002 के गुजरात फ़सादात‌ पर तन्क़ीद करते हुए उन्होंने कहा कि अक़िलियती तबक़े के अफ़रकान और कांग्रेस के साबिक़ रुकन पार्लियामेंट अहसन जाफरी गुलबर्ग सोसाइटी में क़त्ल कर दिए गए जो अहमदाबाद से सिर्फ़ 20किलोमीटर के फ़ासले पर है लेकिन मोदी ने मक़्तूलों के विरसा-ए-से मुलाक़ात तक नहीं की।

उन्होंने कहा कि मोदी मुल्क के लिए ख़तरा है। मुरादाबाद के बी एस पी उम्मीदवार हाजी याक़ूब ने कहा कि मुल्क का इंतेहाई ज़ालिम बरबर नरेंद्र मोदी विज़ारते उज़मा की उम्मीदवारी का एलान करचुके हैं। मुल्क केलिए इस से ज़्यादा बदबख़ती की बात और कोई नहीं होसकती ।जंग-ए-आज़ादी के दौरान बी जे पी और आर एस एस ने अंग्रेज़ों के मखबेरों का किरदार अदा किया था जबकि जंग-ए-आज़ादी में हिंदू और मुसलमान मुत्तहिद थे।

नई दिल्ली से मौसूला इत्तेला के बमूजब नरेंद्र मोदी पर शरद यादव की तन्क़ीद पर रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करते हुए कांग्रेस ने कहा कि ये नरेंद्र मोदी केलिए कोई ख़ुशख़बरी नहीं है क्योंकि सदर एन सी पी क़ौम की नब्ज़ पहचानते हैं ।कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी दिग्विजय‌ सिंह ने टोइटर पर तहरीर किया कि मोदी ने कल साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर अशोक चव्हाण को उम्मीदवार नामज़द करने पर कांग्रेस पर तन्क़ीद की थी।

उन्होंने याददेहानी की कि साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर कर्नाटक बी एस यदि यूरप्पा को दुबारा बी जे पी में शामिल करलिया गया है हालाँकि उन्हें करप्शन के इल्ज़ामात का सामना है। मोदी एक मुजरिम क़रार दिए हुए शख़्स को अपना काबीनी वज़ीर बरक़रार रखे हुए हैं। इस के बावजूद मोदी को अपनी शर्मनाक मंतिक़ पर ज़रा भी शर्मिंदगी नहीं है । उन्होंने कहा कि अशोक चव्हाण ने आदर्श हाउज़िंग सोसाइटी अस्क़ाम के मंज़रे आम पर आने के बाद बहैसियत चीफ़ मिनिस्टर महाराष्ट्रा उसकी अख़लाक़ी ज़िम्मेदारी क़बूल करते हुए इस्तीफ़ा पेश कर दिया था।

TOPPOPULARRECENT