Tuesday , January 23 2018

मोदी का मुखालिफत करना मुल्क का तरक्की रोकना है : अनुपम खेर

जमशेदपुर : कान्हू फिल्म की शूटिंग के सिलसिले में सिने स्टार अनुपम खेर पीर को जमशेदपुर के दौरे पर आये। टाटानगर रेलवे स्टेशन पर ही उन्होंने कई मसलों पर खुल कर बातचीत की. अनुपम खेर ने कहा कौन कहता है कि यहां के टैलेंट को मुकाम नहीं मिल रहा है। महेंद्र सिंह धौनी रांची से हैं और भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान हैं। कई फिल्मों में जमशेदपुर के आर्टिस्टों ने अपनी काबलियत साबित की है। आप मान कर चलिये कि अगर टैलेंट है तो उसे रोका नहीं जा सकता है. हां, ऐसे आर्टिस्टों को मुकाम दिलाने का काम हमारे जैसे आर्टिस्ट करेंगे और यह काम हुकूमत भी करेगी।
नरेंद्र मोदी का जो लोग मुखालिअत कर रहे हैं, वे मुखालिफत के जरिये अपनी दाल रोटी चला रहे हैं। मेरा मानना है कि नरेंद्र मोदी अच्छे वज़ीरे आजम हैं और वे मुल्क को आगे ले जाने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं। उनका मुखालिफत करना मुल्क के तरक्की को रोकना है।
अनुपम खेर ने कहा नरेंद्र मोदी और भारत अपने काम से सबको जवाब दे देंगे। वक़्त पर उनको जवाब मिल जायेगा। पाकिस्तान को भारत अपनी पालिसी से जवाब देगा।

भाजपा में कितना मजबूत ज़म्हुरियत है, यह तो देखिये। लोग वज़ीरे आज़म तक को चैलेन्ज दे सकते हैं या उनका मुखालिफत कर सकते हैं। कांग्रेस में कोई इस तरह मुखालिफत कर सकता है क्या। जहां तक शत्रुघ्न सिन्हा की बात है तो वे हमारे बड़े भाई हैं। अच्छे साथी रहे हैं। उनके खिलाफ मैं कुछ नहीं बोल सकता हूं, आपके सवालों से भी मैं भाग नहीं रहा हूं, लेकिन मैं उनके खिलाफ नहीं बोल सकता। वे जो सोचते हैं, वह बोलते हैं।

कांग्रेस की बात को कौन सुनता ही हैं। आप लोग भी नेगेटिव बातों को क्यों सुनते हैं, नरेंद्र मोदी के काम को देखिये। मुल्क आगे बढ़ रहा है, उसको लोगों को बताइये।

टाटानगर रेलवे स्टेशन पर अनुपम खेर को देखने के लिए पीर को भारी भीड़ उमड़ी। स्टेशन पर पहले से भीड़ को मालूम नहीं था कि कौन आ रहा है, लेकिन कई लोग जो ट्रेन में अपने अहले खाना को छोड़ने आये थे, वे लोग देखने के लिए रुक गये। कोई उनकी फोटो लेना चाहता था तो कोई उनसे हाथ मिलाना चाहता था। बस लोगों की भीड़ को पुलिस ने किसी तरह कंट्रोल कर रखा था। हालांकि, वे काफी संगीन ही रहे और लोगों का इस्तकबाल कुबूल करते रहे।

 

TOPPOPULARRECENT