Monday , December 18 2017

मोदी की नसीहत: मेरे या दूसरे लीडरों के पैर न छुएं

चापलूसी के शकाफ्त(कल्चर) पर हमला करते हुए वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी ने जुमे के रोज़ भाजपा एमपी (MPs) से कहा कि वे उनके (मोदी के) और दिगर लीडरों के पैर छूने की आदत से बचें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पहले मौजू के बारे में पढें, फिर बोलें।

चापलूसी के शकाफ्त(कल्चर) पर हमला करते हुए वज़ीर ए आज़म नरेंद्र मोदी ने जुमे के रोज़ भाजपा एमपी (MPs) से कहा कि वे उनके (मोदी के) और दिगर लीडरों के पैर छूने की आदत से बचें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पहले मौजू के बारे में पढें, फिर बोलें।

समझा जाता है कि पार्लियामेंट के मरकज़ी कमरे में भाजपा पार्लीमानी पार्टी की बैठक में पार्टी के नव मुंतखिब एमपी से खिताब करते हुए मोदी ने उनसे कहा कि वे किसी के पैर न छुएं या न ही चापलूसी करें। ज़राये ने कहा कि मोदी का इशारा उन नए एमपी की ओर था, जो उनसे मिलने पर उनके पैर छू रहे थे। उन्होंने एमपी से कडी मेहनत करने को कहा।

सियासी खानदानो की तरफ से ज़रिये चलाये जाने वाले कुछ इलाकई पार्टीयों के मामले में भी पैर छूने और चापलूसी की रिवायत रही है। मोदी ने इससे अलग अपने एमपी को हिदायत दिया, मेरे पैर न छुएं। ज़राये ने बताया कि मोदी ने अपने एमपी से कहा कि वे जब जम्हूरियत के मंदिर में अपने महारत को बढाकर मालूमात के साथ आएं और अच्छे एमपी बनें।

TOPPOPULARRECENT