Monday , December 11 2017

मोदी के छोटे भाई ने बीजेपी को दिया इंतेबाह

पीएम नरेंद्र मोदी के छोटे भाई प्रह्लाद ने इंतेबाह दिया है कि अगर मरकज़ी हुकूमत की उनकी तंज़ीम की मांगों पर आंखें बंद रही तो उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे रियासतोम् में बीजेपी को इलेक्शन में हार का सामना करना पड़ सकता है। प्रह्लाद की तं

पीएम नरेंद्र मोदी के छोटे भाई प्रह्लाद ने इंतेबाह दिया है कि अगर मरकज़ी हुकूमत की उनकी तंज़ीम की मांगों पर आंखें बंद रही तो उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे रियासतोम् में बीजेपी को इलेक्शन में हार का सामना करना पड़ सकता है। प्रह्लाद की तंज़ीम राशन की दुकान (पीडीएस) के मालिकों के मसले को लेकर जद्दो ज़हद कर रहा है। वह खुद भी गुजरात में राशन की दुकान चलाते हैं।

ऑल इंडिया फेयर प्राइस डीलर्स फेडरेशन के नायब सदर प्रह्लाद मोदी ने मुंबई के आजाद मैदान में राशन दुकानदारों की तहरीक में हिस्सा लेने के लिए आए हुए थे। उन्होंने हुकूमत को उत्तर प्रदेश में लोकसभा इंतेखाबात में बीजेपी के लिए वोट जुटाने में अपनी तंज़ीम के किरदार की याद दिलाई और कहा कि राशन दुकान मालिकों की अनदेखी भगवा पार्टी के लिए नुकसानदेह हो सकती है। उन्होंने कहा कि दुकानदार 17 मार्च को नई दिल्ली जंतर मंतर पर तहरीक करेंगे।

प्रह्लाद ने राशन दुकान मालिकों की एक इजलास से खिताब करते हुए कहा, ‘बीजेपी उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 में से 73 सीटें 75000 राशन दुकान मालिकों की ताईद की बदौलत हासिल कर सकी। दिल्ली चुनाव से पहले सरकार ने इस तबके की अनदेखी की शुरू कर दी और नतीज़ा सबलोग देख सकते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘अगर यह जारी रहा तो बिहार में 70 हजार राशन दुकान मालिक मदद नहीं करेंगे, जो बीजेपी की किस्मत पर मनफी असरात डाल सकता है। वही हाल उत्तर प्रदेश में होगा।

राशन दुकानदारों के तंज़ीम की मांग है कि देही इलाकों के 76% फायदा उठाने वालों फुड सेफ्टी कानून के दायरे में लाया जाए,
Public Distribution System के तहत दूसरे सामान भी बांटे जाएं, कमिशन में बढ़ोतरी हो, केरोसिन का पूरा कोटा बांटा जाए। इस तंज़ीम की एक मांग यह भी है कि सब्सिडी को सीधे फायदा लेने वालों के खाते में ट्रांसफर करने की मुहिम योजना को टाल दिया जाए।

प्रह्लाद ने कहा, ‘हम हुकूमत बदल सकते हैं।’ यह पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने इस मुद्दे पर पीएम से बातचीत की है या अपनी मांगों को पूरा कराने के लिए उनके सामने अपनी बात रखेंगे तो उन्होंने ना कहा। उन्होंने कहा कि फेडरेशन के नुमाइंदो ने Food and Civil Supplies Minister and Secretary से पहले मुलाकात की थी। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी को पीडीएस दुकानदारों की फिक्र पर ध्यान देना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT