Sunday , December 17 2017

मोदी को अमेरिका-पाकिस्तान से आने की दावत‌

लोकसभा चुनावों में शानदार जीत पर नरेंद्र मोदी को अमेरिकी सदर‌ बराक ओबामा और पाकिस्तान वजीर आजम‌ नवाज शरीफ ने मुबारक‌ दी है। इसके साथ ही उन्होंने मोदी को अमेरिकी और पाकिस्तान आने का दावत‌ दिया है। बराक ओबामा ने मोदी को टेलीफोन कर

लोकसभा चुनावों में शानदार जीत पर नरेंद्र मोदी को अमेरिकी सदर‌ बराक ओबामा और पाकिस्तान वजीर आजम‌ नवाज शरीफ ने मुबारक‌ दी है। इसके साथ ही उन्होंने मोदी को अमेरिकी और पाकिस्तान आने का दावत‌ दिया है। बराक ओबामा ने मोदी को टेलीफोन करके उन्हें लोकसभा चुनावों में शानदार जीत की मुबारकबाद‌ दी और उन्हें दोतरफा तालुकात‌ को मजबूत करने के लिए आपसी रजामंदी वाले वक्त‌ पर अमेरिका का दौरा करने का दावत‌ दिया।

दोनों रहनुमाओं के बीच हुई पहली टेलीफोन बात‌ के बाद व्हाइट हाउस ने कहा कि सदर‌ ने नरेंद्र मोदी को हमारे दोतरफा तालुकात‌ को और मजबूत करने के लिए आपसी रजामंदी के वक्त‌ पर वाशिंगटन का दौरा करने के लिए दावत‌ दिया। उनके बीच बातचीत बहुत मुख्तसर‌ रही। महकमा खारजा की तर्जुमान‌ जेन पास्की ने कहा कि अमेरिका सफर‌ के दौरान मोदी ए वन वीजा के लिए काबिल‌ होंगे। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान‌ के वजीर आजम‌ का अमेरिका में खैरमकदम‌ है। देश के अहम‌ होने के नाते वह ए वन वीजा के काबिल‌ होंगे। अमेरिका गुजरात के दंगों के चलते 2005 से मोदी को वीजा देने से इनकार करता रहा है।

चुनाव नताइज‌ आने के कुछ घंटो बाद व्हाइट हाउस ने यकीन दिया कि मोदी सरकार के तहत हिन्दुस्तान‌-अमेरिका रिश्ते मजबूत‌ होंगे। इससे पहले व्हाइट हाउस के प्रेस सेक्रेटरी जे कार्नी ने वीजा मुददे के बारे में पूछे जाने पर अपने रोजाना प्रेस कान्फ्रेंस‌ में कहा, हिन्दुस्तान‌ के वजीर आजम‌ को अमेरिका के सफर‌ के लिए वीजा मिलेगा। हमें नई सरकार और नए वजीर आजम‌ के साथ मिलकर काम करने की उम्मीद है। मुझे इस में कोई मसला नहीं लगती। कार्नी ने कहा, हिन्दुस्तान‌ के प्रधानमंत्री का अमेरिका में खैरमकदम‌ किया जाएगा।

सन् 2005 में अमेरिकी वजीर खार्जा ने 2002 में गुजरात फसादात‌ के बाद मुबैयाना इंसान खेलाफवर्जी के बुंयाद‌ पर अमेरिका में सफर‌ के लिए मोदी का वीजा वापस ले लिया था। अमेरिका बार-बार कहता रहा है कि उसकी मोदी को लेकर वीजा पालीसी में कोई बदलाव‌ नहीं आया है और वह किसी और दर्खाश्तगुजार‌ की तरह वीजा के लिए दर्खाश्त‌ कर सकते हैं और उसकी जाइजा का इंतजार कर सकते हैं। लेकिन जब फरवरी में हिन्दुस्तान‌ में उसकी सफीर‌ नैन्सी पावेल ने अहमदाबाद में मोदी से मुलाकात की तो अमेरिका ने बायकाट की इस नीति में तबदीली का इशारा दिया।

पाकिस्तान के वजीरा आजम‌ नवाज शरीफ ने नरेंद्र मोदी को फोन कर चुनाव में शानदार जीत पर उन्हें मुबारक‌ दी। नवाज शरीफ ने नरेंद्र मोदी को पाकिस्तान आने का दावत‌ भी दिया। वहीं नरेंद्र मोदी की सरकार बनने की उम्मीद‌ देखते हुए पाकिस्तान में हलचल तेज हो गई है। पाकिस्तानी नवाज शरीफ की पार्टी के एक कारकुन‌ अखुनजादा ने बताया कि मोदी के वजीर आजम‌ बनने पर सियाचिन इलाके में सीजफायर का खलाफवर्जी किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि दोनों ही देशों को कारगिल जंग‌ याद है, जिसमें हजारों फौजों की जान गई थी। अखुनजादा ने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि दुबारा ऐसा तनाजा ना हो। गिलगिट अलाका के दिआमेर में रहने वाले 30 साला शहाबुद्दीन के मुताबिक, उन्हें लगता नहीं कि मोदी पाकिस्तान के मुस्लिमों के लिए कुछ अच्छा करेंगे।

TOPPOPULARRECENT