Tuesday , January 23 2018

मोदी को खत में नीतीश ने लिखी ‘मन की बात’

पटना : वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी ने हाल ही में बिहार के मुज़फ़्फ़रपुर में रैली के दौरान नीतीश कुमार के डीएनए पर तन्क़ीद की थी। इसके जवाब में नीतीश कुमार ने बुध को मोदी को एक ‘खुला खत’ लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि मोदी की तन्क़ीद से न सिर्फ उन्हें बल्कि पूरे बिहार को चोट पहुंची है।
उन्होंने लिखा, ”आप फिर से इस रियासत का दौरा करने वाले हैं, इसलिए मैं उन सब लोगों की तरफ़ से आपको खत लिख रहा हूं जो आपके बयान से मायूसी हुए हैं। ” उन्होंने आगे लिखा, ”आपके अलफ़ाज़ से एक बहुत बड़ी तादाद में लोग मायूस हुए हैं। आप जिस ओहदे पर हैं, ऐसे में यह और भी गलत है। ”

उन्होंने लिखा, ”हालांकि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले भी आपके साथी और मर्कज़ी वज़ीर नितिन गडकरी ने भी कहा था कि बिहार के डीएनए में जातिवाद है। ” वो लिखते हैं, ”जिन लोगों पर तनक़ीद की गई हैं, यह वही लोग हैं जिन्होंने आपको इंतिखाब में इतने बड़े मत से जीत दिलाई। ऐसे में जब इस तरह के बयान दिए जाते हैं तो इन लोगों का यक़ीन आपके ऊपर डगमगाता है। ”

नीतीश कुमार ने खत में लिखा कि वो बिहार के बेटे हैं और महात्मा गांधी, राम मनोहर लोहिया और जयप्रकाश नारायण के बताए रास्तों पर चलते हैं।
उन्होंने लिखा, ”मैं बिहार का बेटा हूं और मेरा डीएनए वही है जो बिहार के बाक़ी लोगों का है। मैंने अपने 40 साल के अवामी ज़िन्दगी में लोगों की भलाई के लिए काम किया है। ”

 

 

बशुक्रिया बीबीसी हिंदी डॉट कॉम

TOPPOPULARRECENT