Tuesday , December 12 2017

मोदी तमाम तबक़ात के लिए काम कररहे हैं : बी जे पी

मुल्क की अक़िलियतों को एहसास होगया है कि वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी किसी ख़ास फ़िर्क़ा के लिए नहीं बल्कि समाज के तमाम हिस्सों के लिए काम कररहे हैं। बी जे पी के क़ाइद मुख़तार अब्बास नक़वी ने कहा कि हमारी ख़ुद साख़ता सैकूलर सियासी पार्टीयों

मुल्क की अक़िलियतों को एहसास होगया है कि वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी किसी ख़ास फ़िर्क़ा के लिए नहीं बल्कि समाज के तमाम हिस्सों के लिए काम कररहे हैं। बी जे पी के क़ाइद मुख़तार अब्बास नक़वी ने कहा कि हमारी ख़ुद साख़ता सैकूलर सियासी पार्टीयों ने अक़िलियतों में बी जे पी और मोदी के बारे में बहुत ज़्यादा उलझन पैदा कर रखी है।

ताहम अक़िलियतों को एहसास होगया है कि मोदी किसी ख़ास फ़िर्क़ा के लिए नहीं बल्कि समाज के तमाम तबक़ात के लिए काम कररहे हैं। उन्होंने कहा कि हम कहते हैं कि सब का साथ सब का विकास, ग़रीब और कमज़ोर तबक़ात तमाम फ़िरक़ों में हैं। एक ख़ास स्कीम किसी ख़ास फ़िर्क़ा के लिए नहीं होनी चाहिए क्योंकि ग़रीब समाज के तमाम हिस्सों में है।

उन्होंने कहा कि मोदी हुकूमत के बरसर‍-ए‍-इक्तेदार‌ आने के साथ ही एक बड़ी तबदीली पैदा हुई है। दिल्ली में इक़्तेदार की गलयारीयों से इक़्तेदार के दलाल ग़ायब होगए हैं। मोदी का मक़सद है कि ना खाएंगे ना खाने देंगे। इक़्तेदार के दलालों की दूकानें बंद होचुकी हैं अब वो अपनी पसंदीदा कांग्रेस पार्टी के ज़ेरे इक़्तेदार रियासतों में महफ़ूज़ पनाह गाहें तलाश कररहे हैं।

बी जे पी क़ाइद ने कहा कि हिन्दुस्तान के अवाम ने फ़ैसला करलिया है कि इन नए मुक़ामात पर इक़्तेदार के दलालों को असेम्बली इंतेख़ाबात में बी जे पी हुकूमत को कामयाब करके दूकानें बंद करने पर मजबूर कर दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ज़ेर-ए-क़ियादत हकूमत-ए-पाकिस्तान को जवाब देने में बहुत कमज़ोर थी लेकिन हमारी हुकूमत मुंहतोड़ जवाब दे रही है।

मोदी पर तन्क़ीद के बारे में उन्होंने कहा कि अगर वो बहुत ज़्यादा इंतेख़ाबी जलसों से ख़िताब करते हैं तो इस में मसला किया है।

TOPPOPULARRECENT