Tuesday , December 12 2017

मोदी ने नये वोटरों को झांसा दिया: लालू प्रसाद

राजद सरबराह लालू प्रसाद ने कहा है कि गणेश जी को दूध पिलाने वालों ने मुल्क को झांसा दिया। फेसबुक और ट्विटर पर इधर-उधर की तसवीर कट-पेसट कर इंद्रजाल बनाया और इससे नये वोटरों को झांसा दिया। आंख बंद, डब्बा गोल का खेल भाजपा ने किया है। मंड

राजद सरबराह लालू प्रसाद ने कहा है कि गणेश जी को दूध पिलाने वालों ने मुल्क को झांसा दिया। फेसबुक और ट्विटर पर इधर-उधर की तसवीर कट-पेसट कर इंद्रजाल बनाया और इससे नये वोटरों को झांसा दिया। आंख बंद, डब्बा गोल का खेल भाजपा ने किया है। मंडलवादी ताकतों का बिखराव हुआ। अब तू-तू, मैं-मैं की सियासत नहीं होनी चाहिए। इसी से सामाजिक इंसाफ के वोट बिखरे और फायदा फिरका परस्त ताकतों को हो गया।

लालू ने कहा हमारे बुनियाद और मिसाली में सेकुलरिज़्म रही है। नीतीश हमारे ही थे। उनके जाने से ही भाजपा का पेट फूल गया। अब भाजपा से डायवोर्स हो गया है। लोकसभा में नीतीश को 15 फीसद, राजद को 30 फीसद वोट मिला। हम दोनों मिल गये, तो 45 फीसद हो गया। उन्होंने कहा कि मंडल की गाड़ी फिर निकल गयी है, जिसको चढ़ना है टिकट ले, नहीं तो स्टेशन पर ताकते रह जायेंगे। पीर को मिस्टर प्रसाद सहाफ़ियों से बात कर रहे थे।

प्रेस कोन्फ्रेंस में मिस्टर प्रसाद ने वजीरे आजम नरेंद्र मोदी पर जम कर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नौजवानों को गुमराह किया कि हर हाथ को काम देंगे। मुल्क में स्मार्ट सिटी की तर्ज पर 100 शहर को संघाई बनायेंगे। भारत सरकार का एक साल का बजट एक संघाई बनाने में चला जायेगा। लालू ने कहा बुलेट ट्रेन चलाने की बात कर रहे हैं। हम भी टमटम वज़ीर नहीं थे। रेल वज़ीर थे। हमें मालूम है कि बुलेट ट्रेन कैसे चलती है। पैसा कहां से लायेंगे। जहां आबादी कम होती है, उस इलाके से बुलेट ट्रेन चलती है। भारत में कहां बुलेट ट्रेन चल पायेगी। न नौ मन तेल होगा और ना राधा नाचेगी।

लालू ने कहा मंसूबा बनाने में माइंड अप्लाइ नहीं किया गया। मुल्क में सूखा पड़ गया है। मरकज़ी हुकूमत कह रही है कि अनाज भरपूर है। मोदी जी बतायें, ये अनाज उन्होंने उगाया है, क्या। यूपीए हुकूमत की देन है। मनमोहन सिंह ने इंकलाबी काम किया था। भंजा नहीं सके। लालू प्रसाद ने कहा कि बिहार हुकूमत को उनका हाथ है और हुकूमत अच्छा काम कर रही है। प्रेस कोन्फ़्रेंस में वज़ीर अन्नपूर्णा देवी, सुरेश पासवान और रियसती सदर गिरिनाथ सिंह भी मौजूद थे।

बाबा-साधु को कोई पूछ नहीं रहा, तो साई भगवान पर बोल रहे लालू प्रसाद ने कहा कि वह जगत गुरु शंकराचार्य का इज्ज़त और आदर करते हैं। स्वरूपानंद जी महाराज हमारे गांव भी आये हैं। लेकिन अब घोर कलयुग आ गया। साईं बाबा के बारे में जैसी-तैसी बात की जा रही है। साईं बाबा ने नहीं कहा था कि लोग उन्हें भगवान कहें। उन्होंने तो कहा था कि सबका मालिक एक है। लेकिन बेवजह तनाज़ा किया जा रहा है। साईं भगवान के पास चढ़ावा आ रहा है, बाबा-साधु को कोई पूछ नहीं रहा है।

TOPPOPULARRECENT