Thursday , June 21 2018

मोदी ने मुंबई की सोसाइटी के मसले पर पहल की

इंतेख़ाबी मुहिम के दौरान सोसाइटी मेम्बरस की नुमाइंदगी पर रद्द-ए-अमल, मसला चीफ़ मिनिस्टर महाराष्ट्रा से रुजू

इंतेख़ाबी मुहिम के दौरान सोसाइटी मेम्बरस की नुमाइंदगी पर रद्द-ए-अमल, मसला चीफ़ मिनिस्टर महाराष्ट्रा से रुजू

अपने मुक़ामी मसाइल की यकसूई कराने के लिए दर , दर भटकने के बाद सब अर्बन सोसाइटी के अरकान अब हुक्मरानी के ताल्लुक़ से अच्छी उम्मीद रखते हैं क्योंकि बी जे पी लीडर नरेंद्र मोदी ने इस माह के अवाइल इंतेख़ाबी मुहिम के दरमियान उनकी अर्ज़ी पर जवाब दिया है।

शुमाली मुंबई में वाक़्य कॉम्प्लेक्स ओबरॉय स्प्रिंगस के मकिनों का दावा है की उन्होंने 2010 से बरेहन मुंबई म्यूनसिंपल कॉर्पोरेशन (बी एमसी) और रियासती हुकूमत के मुख़्तलिफ़ ओहदेदारों को ज़ाइद अज़ 70 मुक्तो बात तहरीर करते हुए उनके कॉम्प्लेक्स के रास्ते की सड़कों की मरम्मत-ओ-देख भाल चाही।

सोसाइटी के मुताबिक़ ये सड़कें ख़सताहाल हैं और स्ट्रीट लाइट्स या तूफ़ानी बारिश की सूरत में पानी की निकासी का इंतेज़ाम नहीं है। सोसाइटी मेम्बर्स‌ ने कहा कि उन्होंने गुज़िश्ता चार साल में कई मर्तबा बी एमसी हुक्काम से मुलाक़ात की मगर कुछ फ़ायदा ना हुआ। सोसाइटी के साबिक़ चैयरमैन प्रकाश मीर पूरी ने कहा, हम ने बी एमसी और रियासती हुकूमत को मुक्तो बात तहरीर करते हुए हमारे कॉम्प्लेक्स के रास्ते की सड़कों की मरम्मत चाही।

लेकिन कभी किसी ओहदेदार ने कोई जवाब ना दिया। मीर पूरी ने कहा कि जवाब ना मिलने पर सोसाइटी ने नायब सदर कांग्रेस राहुल गांधी को 5 अप्रैल 2014 को मकतूब तहरीर किया और साथ ही मकतूब की कापी मोदी को भी भेज दी गई। मकीनों के मुताबिक़ राहुल ने अभी कोई जवाब नहीं दिया है, लेकिन मोदी ने दिया।

मोदी के सेक्रिट्रेट में अंडर सेक्रेटरी प्रकाश मजुमदार ने ये मकतूब 5 मई को चीफ़ मिनिस्टर पृथ्वी राज चौहान से रुजू करते हुए कॉम्प्लेक्स के मकिनों के मुफ़ाद में मुनासिब कार्रवाई की ख़ाहिश की है।

TOPPOPULARRECENT