Monday , April 23 2018

मोदी भक्तों ने चीन की दीवार को बना दिया असम की दीवार, जानिये अंधभक्तों की कहानी…

मीडिया से तो अक्सर ही लोगों को शिकायात रहती हैं और ये शिकायात लगभग हर तबक़ा  करता है लेकिन सबकी शिकायतों को दूर करना इतना आसान नहीं लेकिन हाँ आज मैं कुछ लोगों की शिकायत को दूर करने की कोशिश करूंगा. जी, ये लोग पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर कह रहे हैं कि “पेड मीडिया” सही ख़बरें नहीं दिखाता…चलिए आज हम इन्हीं लोगों की बात करेंगे जो ख़बरें ये आपको और हमें पढवाना चाहते हैं उसी के बारे में बात करते हैं आज..आख़िर इन लोगों की बात भी तो सुनी और पढ़ी जानी चाहिए..

सोशल मीडिया पे आजकल कुछ लोग नरेंद्र मोदी की तारीफ़ वाली ख़बरें पोस्ट करवाना चाहते हैं और इसी सिलसिले में उनकी कुछ पोस्ट पे नज़र डालते हैं… एक पोस्ट जो ख़ूब चर्चा की पात्र है वो है एक दीवार की, एक साहिबा का कहना है कि पेड मीडिया ये ख़बर क्यूँ नहीं दिखाता कि नरेंद्र मोदी ने असम और बांग्लादेश के बीच एक ऐसी दीवार बनवा दी है जिसके आर पार कोई नहीं जा सकता और ये दीवार आपको जानकार हैरानी होगी चीन की दीवार से हू ब हू मिलती है. आप भी डालिए इस नायाब पोस्ट पर एक नज़र Chin

जी, आप हैरान ना हों ये चीन ही की दीवार है लेकिन भक्त समाज के परिवारजनों ने इसको मोदी की विकास गाथा से जोड़ दिया है.

इसके बाद बढ़ते हैं एक दूसरी पोस्ट की तरफ़ जो दावा करती है कि बनारस जो कि प्रधानमंत्री मोदी की लोकसभा सीट है वहाँ पर विकास की वो धारा  बही है कि बसों ने ज़मीन छोडो हवा में उड़ना शुरू कर दिया है, कमाल की बात है जो बनारस के रहने वाले हैं इस ख़बर के बाद से परेशान हैं … आप भी देखें ये पोस्ट ultimate . जी इस तरह की बेवकूफाना बातें ये जानते हुए कि सिवाय झूठ के ये कुछ नहीं हैं कुछ लोग मान रहे हैं और शायद यही वजह है कि इनको अंधभक्त कहा जाने लगा है.
बहरहाल इस तरह के मसाले और भी हैं लेकिन वो फिर कभी..

TOPPOPULARRECENT