Thursday , August 16 2018

मोदी वज़ीर-ए-आज़म नहीं बन सकते, चाय बेच सकते हैं

कांग्रेसी क़ाइद मणि शंकर अय्यर ने बी जे पी के विज़ारत-ए-उज़मा के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की वज़ीर-ए-आज़म बनने की आरज़ू का मज़ाक़ उड़ाते हुए कहा कि उन के तबसरों से तनाज़े खड़े होते हैं अगर वो कुल हिंद कांग्रेस के इजलास में चाय बेचें तो में इनका खैरमक़दम करूंगा।

बी जे पी ने मोदी के ख़िलाफ़ इस तबसरे पर फ़ौरी रद्द-ए-अमल ज़ाहिर किया। अरूण जेटली ने कहा कि हिन्दुस्तानी जम्हूरियत की ताक़त का सबूत होगा अगर साबिक़ चाय बेचने वाला ख़ानदानी नुमाइंदों को शिकस्त दे दे। ये जंग 2014 में होगी। उन्होंने अपने ट्विटर पर तहरीर किया कि 2014 के इंतेख़ाबात ही इसका फ़ैसला करेंगे।

बी जे पी के तर्जुमान ने कहा कि अय्यर का तबसरा कांग्रेस की आइन्दा इंतेख़ाबात के सिलसिले में गहरी मायूसी की अक्कासी करता है। वो जानते हैं कि वो नाकाम रहेंगे इस लिए हम सिर्फ़ उनकी सेहत की बेहतरी के लिए नेक ख़ाहिशात पेश करसकते हैं। बी जे पी के क़ाइद मुरली मनोहर जोशी ने कहा कि आम इंतेख़ाबात के बाद ये वाज़िह हो जाएगा कि हुकूमत कौन तशकील देगा और चाय कौन बेचेगा।

चीफ़ मिनिस्टर जम्मू-कश्मीर उमर अबदुल्लाह ने अय्यर के तबसरे पर तन्क़ीद करते हुए कहा कि मोदी के कई मनफ़ी पहलू हैं लेकिन एक मामूली हैसियत से उनका इतने बड़े मर्तबे पर पहूंचना एक मुसबत पहलू है। हमें उनके ज़िंदगी के मामूली आग़ाज़ का मज़ाक़ नहीं उड़ाना चाहिए। कुल हिंद कांग्रेस के जारिया इजलास में अय्यर ने मोदी की आरज़ू का मज़ाक़ उड़ाया था।

TOPPOPULARRECENT