Tuesday , January 16 2018

मोदी शहनशाह की तरह बिहेव करने के बजाय संसद में आएं, नोटबंदी पर जवाब दें: कांग्रेस

नई दिल्ली: नोटबंदी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आज दिए बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कांग्रेस ने कहा है कि अगर प्रधानमंत्री लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं तो उन्हें शहनशाह की तरह व्यवहार करने के बजाय संसद में आना चाहिए और चर्चा में भाग लेना चाहिए और नोटबंदी पर विपक्ष की चिंताओं का जवाब देना चाहिए.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

बसीरत ऑनलाइन के अनुसार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मलिका अर्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा है कि ब्लैकमेल करने की जरूरत नहीं है, डराने की ज़रूरत नहीं है. लोकसभा चुनाव में 52 करोड़ लोगों ने वोट डाला था और भाजपा को केवल 17 करोड़ लोगों के वोट मिले थे। उन्होंने कहा है कि आप (मोदी) यह समझ रहे हैं कि आप शहनशाह हैं, और शहनशाह के कहे अनुसार देश चलेगा, यह ठीक नहीं है. खड़गे ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा है कि यदि प्रधानमंत्री लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं तो उन्हें संसद में आना चाहिए और चर्चा में भाग लेना चाहिए और नोटबंदी पर विपक्ष की चिंताओं का जवाब देना चाहिए.
उन्होंने आरोप लगाया है कि सत्तारूढ़ पार्टी और सरकार संसद में नोटबंदी पर चर्चा ही नहीं करना चाहते हैं जिस फैसले की वजह से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है और इस वजह से बैंकों और एटीएम की पंक्ति में अबतक 70 लोगों की मौत हो चुकी है।
कांग्रेस नेता ने कहा कि हम आम लोगों, गरीबों, छात्रों, महिलाओं, किसानों की परेशानियों और तकलीफों की बात करते हैं तो कहा जाता है कि हम काले धन के समर्थक हैं। प्रधानमंत्री इस तरह के गलत आरोप लगाना बंद करें और संसद में आकर बोलें. खड़गे ने आरोप लगाया है कि बड़े नोटों को रद्द करने के फैसले को विशिष्ट रूप से लीक किया गया है और काले धन की आड़ में सरकार अपने लोगों को मजबूत कर रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने आज सुबह एक किताब की रस्म इजरा समारोह में कहा है कि नोटबंदी की घोषणा से पहले सरकार की तैयारी न होने की आलोचना करने वाले लोगों के लिए परेशानी यह है कि उन्हें खुद तैयारी का मौका नहीं मिला।

TOPPOPULARRECENT