मोदी सरकार के मंत्री अपने सांसदों और बुजुर्गों की एक नहीं सुनते: बीजेपी सांसद

मोदी सरकार के मंत्री अपने सांसदों और बुजुर्गों की एक नहीं सुनते: बीजेपी सांसद

गोरखपुर.  मोदी सरकार के मंत्री अपने सांसदों और वरिष्ठों की एक नहीं सुनते। जी हां यह मैं नहीं कह रहा यह खुद सर्राफा आंदोलन के दौरान व्यवसासियों से घिरे एक बीजेपी सांसद ने यह खुलासा किया है। पत्रिका न्यूज़ पोर्टल के अनुसार कुछ आन्दोलन कारी ने कुशीनगर के सांसद राजेश उर्फ गुड्डू पांडेय को घेरकर बैठा लिया और कारोबारी सांसद से अपनी बातें शेयर करने लगे, बातों बातों में सांसद का दर्द भी उभर आया। उन्होंने पहले पूछा कि कोई यहाँ मीडिया का तो नहीं है। फिर कहना शुरू कर दिया कि वित्त मंत्री अरुण जेटली जनता के बीच तो कभी रहे नहीं। राज्यसभा के सदस्य हैं। मंत्री हो गए हैं। वह जनता की आवाज को क्या समझेंगे। गौरतलब है कि सर्राफा व्यवासायी पिछले कई हफ्तों से एक्साइज ड्यूटी बढ़ाए जाने का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने आगे बताया कि राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज, मुरली मनोहर जोशी, वे खुद और ढेर सारे सांसद उनसे इस काले कानून को हटाने की बात कह चुके हैं लेकिन वे सुन ही नहीं रहे हैं।

मैं यह बताता चलूं कि सांसद गुड्डू पांडेय बीजेपी के कद्दावर नेता हैं। पूर्व पीएम अटल बिहारी बाजपेयी के लखनउ संसदीय क्षेत्र के मीडिया प्रभारी रह चुके हैं। कई बार MLC रह चुके हैं। पूर्व केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री राजमंगल पांडेय के पुत्र हैं।

Top Stories