Saturday , April 21 2018

मोदी सरकार ने 10 रुपये के सिक्कों का उत्पादन रोका, बताई बड़ी वजह

देश में 10 रुपये के सिक्कों  के उत्पादन को मोदी सरकार ने फिलहाल पूरी तरह से रोक दिया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि देश में इस वक्त 10 रुपये के सिक्के प्रचुर संख्या में मौजूद हैं, इसलिए इनका प्रोडक्शन फिलहाल रोक दिया गया है।

सिक्कों की डिमांड में नहीं आई है किसी तरह की कमी

जेटली ने लोकसभा में लिखित जवाब देते हुए कहा कि 10 रुपये के सिक्कों की डिमांड में किसी तरह की कोई कमी नहीं आई है। अभी देश में सभी तरह के सिक्कों का स्टॉक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं, जिसके कारण किसी भी व्यक्ति को इसके लिए चिंता करने की जरुरत नहीं है।

जेटली ने कहा कि कोई भी व्यक्ति आरबीआई और बैंकों के काउंटर पर जाकर के सिक्के ले सकता है। किसी भी तरह के सिक्कों पर सरकार की तरफ से रोक नहीं लगाई गई है और 10 के जितने भी सिक्के मार्केट में प्रचलन में इस वक्त चल रहे हैं वो सभी वैध हैं। सरकार क्वाइन मेला लगाकर भी आम जनता को सिक्के मुहैया करा रही हैं।

10 रुपये के 14 डिजाइन वाले सिक्के वैध
आपको बता दें कि बाजार में इस समय 14 तरह के डिजायन वाले 10 रुपए के सिक्के मौजूद हैं। जिनकी वैधता पर लोगों को संदेह है। इसी वजह से आरबीआई लोगों को मैसेज करके जागरुक कर रही है। 17 जनवरी को जारी किए एक बयान में केंद्रीय बैंक ने कहा- सरकारी टकसालों द्वारा बनाए गए सिक्कों का वह सर्कुलेशन करती है।

आरबीआई ने 14 डिजायनों में 10 के सिक्के जारी किए हैं। यह सभी सिक्के वैध हैं और इनका लेन-देन के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे पहले भी कई बार 10 के सिक्कों के बंद होने की अफवाहें सामने आई हैं और हर बार आरबीआई ने इन्हें खारिज किया है।

TOPPOPULARRECENT