Friday , December 15 2017

‘मोदी हुकूमत का फैसला हिंदुओं पर हमला’ : शिवसेना

मुंबई, 21 अप्रैल: (एजेंसी) शिवसेना ने एक बार फिर गुजरात के वज़ीर ए आला नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। पार्टी ने 2002 के नरोदा पटिया कत्ल ए आम के मामले में मुल्ज़िम करार गुजरात की साबिक वज़ीर माया कोडनानी और दूसरे नौ लोगो को फांसी दिलाने की

मुंबई, 21 अप्रैल: (एजेंसी) शिवसेना ने एक बार फिर गुजरात के वज़ीर ए आला नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। पार्टी ने 2002 के नरोदा पटिया कत्ल ए आम के मामले में मुल्ज़िम करार गुजरात की साबिक वज़ीर माया कोडनानी और दूसरे नौ लोगो को फांसी दिलाने की मांग करने के मोदी हुकूमत के फैसले को हिंदुओं पर तबाहकुन हमला करार दिया है।

शिवसेना ने अपने अखबार सामना के इदारिया में लिखा है कि कोडनानी और बजरंगी के लिए फांसी की मांग हिंदुओं पर तबाहकुन हमले है क्योंकि हिंदुओं को मोदी से कुछ अलग उम्मीदें थी।

दरअसल लोग महसूस कर रहे हैं कि मोदी हिंदुओं के मुहाफिज़ (रक्षक) हैं। इदारिया में कहा गया है कि इस मुल्क में हिंदू होना एक ज़ुर्म है। हमें इसका अफसोस है कि हिंदुओं पर हमला करने वाला भी हिंदू हैं।

पिछले साल अगस्त में ट्रायल कोर्ट ने कभी मोदी की करीबी रहीं कोडनानी को 28 साल की जेल की सजा सुनाई थी जबकि बाबू बजरंगी को अपनी बची ज़िंदगी कैद में गुजराने का हुक्म सुनाया था। दूसरे आठ लोगों को 31 साल और दूसरे 22 मुल्ज़िमों को 24 साल की कैद की सजा दिया था। अहमदाबाद के नरोदा पटिया इलाके में 28 फरवरी, 2002 को हुए कत्ल ए आम में 97 लोग मारे गए थे।

हुकूमत गुजरात ने इस हफ्ते की शुरुआत में कोडनानी और दूसरों के लिए फांसी की मांग करने के ताल्लुक में हाईकोर्ट में अपील करने का फैसला लिया है।

TOPPOPULARRECENT