Tuesday , December 12 2017

मोदी हुकूमत की कारकर्दगी तारीखे हिंद में सब से बदतर

साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर जय राम रमेश ने इल्ज़ाम आइद किया कि मर्कज़ की नरेंद्र मोदी हुकूमत की कारकर्दगी तारीख़ हिंद में सब से बदतरीन साबित होरही है।

साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर जय राम रमेश ने इल्ज़ाम आइद किया कि मर्कज़ की नरेंद्र मोदी हुकूमत की कारकर्दगी तारीख़ हिंद में सब से बदतरीन साबित होरही है।

मोदी अपनी काबीना बी जे पी और अरकाने पार्लियामेंट को नज़रअंदाज कररहे हैं। जय राम रमेश कांग्रेस के सीनीयर लीडर है उन्होंने अपने इस अंदेशे का भी इज़हार किया के मोदी की हुकूमत में हिंदुस्तान मफ़लूज जमहूरीयत की तरफ़ पेशक़दमी कररहा है।

हुकूमत की कारकर्दगी फ़र्द-ए-वाहिद की हुकूमत दिखाई दे रही है। ये हुकूमत निहायत ही ख़ुदसर ख़ुद पसंद और आमिराना मिज़ाज की हामिल मालूम होरही है। हुकूमत में सिर्फ़ मोदी ही इख़तियार कुल की हैसियत रखते हैं। उन्होंने कहा कि एन डी ए हुकूमत के दस माह में लोक सभा की कार्रवाई जिस नौईयत से चलाई जा रही है वो तक़रीबन आमिराना है।

पिछ्ले एक साल से हिंदुस्तान की जमहूरीयत को मफ़लूज बनादिया गया है। हमारे पास फ़राख़दिलाना जमहूरीयत पाई जाती थी लेकिन अब ये ग़ैर माक़ूल जमहूरीयत में तबदील होरही है क्युंकि वज़ीर-ए-आज़म की हैसियत से एक आमिराना चेहरा हमारे सामने मौजूद है। इस चेहरे को इत्तेफ़ाक़ राय पर नहीं है जो अवाम को अपने साथ लेकर चलने पर यक़ीन नहीं रखता।

उन्होंने दावे किया कि मोदी हुकूमत की कारकर्दगी और इस के तर्ज़ हुक्मरानी दोनों से अवाम नालां होरहे हैं। मोदी तारीखे हिंद में एक एसी हुकूमत कररहे हैं जिस के फ़ैसले फ़र्द-ए-वाहिद ही कररहा है। उन्होंने अपनी काबीना को मफ़लूज बनाकर रख दिया अपनी पार्टी को भी कमज़ोर कर दिया है।

दिल्ली में बैठ कर मोदी अवाम को ख़ाब बेच रहे हैं और हैदराबाद में के सी आर भी अपने अवाम को यही ख़ाब दिखा रहे हैं। ख़ाब फ़रोख़त करनेवाली दो यूनिटों के अलावा आमिरीयत पसंद भी दो हुक्मराँ है। बुलंद दावे करना झूटे वादे करना इन दोनों का वतीरा बना हुआ है।

TOPPOPULARRECENT