Monday , January 22 2018

मोहन भागवत का दावा: हिंदुओं का धर्मांतरण नहीं करवा सकते हैं ईसाई

मध्य प्रदेश: नवसारी जिले के वंसदा में संघ की ओर से आयोजित विराट हिंदू सम्मेलन के समापन संबोधन में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने धर्मातरण का मुद्दा उठाते हुए हिंदू एकता पर जोर दिया। भागवत के मुताबिक मिशनरियों में इतनी ताकत नहीं है कि वे देश के हिंदुओं को ईसाई बना सकें। क्योंकि उन्होंने अमेरिका और यूरोप में ईसाई धर्मं फैला दिया है। अब उनकी नजर एशिया पर है। भागवत ने हिंदुओं से यह याद रखने को कहा कि ‘वे कौन हैं’ और उनकी संस्कृति ‘ऊँची’ है।

भागवत ने जाति-भाषा से परे जाकर समुदाय के सदस्यों से साथ आने की अपील की और कहा वैसे तो देश में ऐसी कोशिशें कामयाब होने की संभावना नहीं है। इसके अलावा मोहन भागवत ने हमेशा की तरह धर्मं की राजनीति करते हुए कहा कि भारत माता हम सब की मां है। हम सब हिंदू हैं। चाहे हमारी जातियां, भाषा, भगवान् अलग है लेकिनजो भारत माता के पुत्र हैं, वे हिंदू हैं। इसलिए हमारे देश को हिंदुस्तान कहा जाता है।

TOPPOPULARRECENT