Saturday , September 22 2018

मोहम्मद शमी का मामला क्रिकेट से अलग, BCCI ने कॉन्ट्रैक्ट रोक कर किया गलत- UP खेल मंत्री

विवादों में फंसे भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी फिलहाल भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर हैं। शमी की पत्नी हसीन जहां ने उन पर एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर और डॉमेस्टिक वॉयलेंस के संगीन आरोप लगाए हैं।

कोलकाता पुलिस ने हसीन जहां की शिकायत के बाद शमी पर मामला दर्ज किया है। इस बीच पूर्व क्रिकेटर और उत्तर प्रदेश के खेल मंत्री चेतन चौहान ने शमी के कॉन्ट्रैक्ट रोके जाने पर सवाल उठाए हैं।

शनिवार को उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि बीसीसीआई को मोहम्मद शमी के अनुबंध को नहीं रोकना चाहिए, क्योंकि इस मामले का क्रिकेट से कोई संबंध नहीं है और वह अब तक दोषी नहीं पाए गए हैं।

गौरतलब है कि बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने पीटीआई से कहा था कि बोर्ड ने शमी की पत्नी के आरोपों को ध्यान में रखते हुए उनका नाम रोक दिया।

उधर, शमी के आईपीएल खेलने पर भी संकट के बादल मंडराने लगे हैं। इंडियन प्रीमियर लीग की फ्रेंचाइजी दिल्ली डेयरडेविल्स ने कहा कि शमी के दिल्ली की टीम से खेलने को लेकर जल्द फैसला करेगी।

वह शमी से जुड़े विवाद पर करीबी नजर रखे हुए है तथा उसके शीर्ष अधिकारी इस मामले में जल्द ही बीसीसीआई अधिकारियों से मिल सकते हैं।

कोलकाता पुलिस ने शमी और उनके परिवार के चार सदस्यों के खिलाफ आईपीसी की धारा 498A, 323, 307, 376, 506, 328 और 34 के तहत केस दर्ज किया है।

इसमें शमी पर घरेलू हिंसा के आरोप में आईपीसी की धारा 498 ए के तहत केस दर्ज किया गया है। इसके तहत शमी और उनके परिवार के सदस्यों पर पत्नी हसीन जहां के साथ क्रूर व्यवहार करने का आरोप है। वहीं, शमी पर आईपीसी की धारा 323 के तहत पत्नी को चोट पहुंचाने का आरोप है।

TOPPOPULARRECENT