Thursday , September 20 2018

मोहम्मद शमी क्रिकेट खेल सकेंगे या नहीं, 16 मार्च को BCCI की कानूनी टीम करेगा फैसला!

मोहम्मद शमी इस साल आइपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से खेल सकेगें या नहीं इस बात का फैसला अब 16 मार्च को होगा।16 तारीख को आइपीएल गवर्निग काउंसिल की बैठक है।पत्नी हसीन जहां पर शारीरिक-मानसिक अत्याचार व विवाहेतर संबंधों के आरोपों में घिरे भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मुहम्मद शमी का भविष्य तय करने के लिए बीसीसीआइ ने उनका मामला अपनी कानूनी समिति को भेज दिया है।

बीसीसीआइ के शीर्ष पदाधिकारी ने कहा कि सोमवार को मुंबई में कप्तान-कोच सम्मेलन के दौरान इस मसले पर चर्चा की गई थी। इसमें अधिकतर लोगों का मानना था कि यह शमी का निजी मामला है लेकिन एफआइआर होने की स्थिति में बीसीसीआइ अपनी कानूनी टीम से इस पर राय लेना चाहता है।

कानूनी टीम की राय आने के बाद शमी पर फैसला लिया जाएगा। अधिकारी ने कहा कि शमी आइपीएल में खेलेंगे या नहीं यह भी जल्द ही तय हो जाएगा।

आइपीएल गवर्निग काउंसिल की बैठक अब 16 तारीख के लिए टल गई है। आइपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना, कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी, कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी, सीईओ राहुल जौहरी और सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति की सदस्य डायना इडुलजी भी भाग लेंगी।

इस बैठक में भी शमी के आइपीएल में भाग लेने पर चर्चा होगी। इसके बाद उनकी फ्रेंचाइजी दिल्ली डेयरडेविल्स को निर्देश दिया जाएगा। शमी को इस साल नीलामी में दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीदा है।

हसीन जहां की शिकायत के आधार पर पुलिस ने शमी के खिलाफ गैरजमानती धाराओं में मामला दर्ज किया है। हसीन की शिकायत के आधार पर शमी व उनके परिवार के चार सदस्यों के खिलाफ जादवपुर थाने में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

उनके खिलाफ दहेज से संबंधित घरेलू ¨हसा, मारपीट, हत्या की कोशिश, दुष्कर्म, जान से मारने की धमकी, जहर देना और आपराधिक साजिश के तहत सामूहिक अत्याचार के मामले दर्ज किए गए हैं।

इसके बाद शमी के परिवार ने हसीन से समझौते की कोशिश की लेकिन भारतीय क्रिकेटर की पत्नी ऐसा नहीं करना चाहती हैं।

सौजन्य- दैनिक जागरण

TOPPOPULARRECENT