मौलाना अब्दुल वहाब खिलजी के निधन पर ई. अबूबकर ने शोक जताया

मौलाना अब्दुल वहाब खिलजी के निधन पर ई. अबूबकर ने शोक जताया

पाॅपुलर फ्रंट आॅफ इंडिया के चेयरमैन ई. अबूबकर ने प्रसिद्ध मुस्लिम विद्वान व मिल्ली लीडर मौलाना अब्दुल वहाब खिलजी साहब के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा, मौलाना अब्दुल वहाब खिलजी साहब से हमने एक मज़बूत आवाज़ को खो दिया है।

मौलाना अब्दुल वहाब खिलजी देश के अहल-ए-हदीस आंदोलन का नेतृत्व करने के साथ, आॅल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लाॅ बोर्ड और आॅल इंडिया मिल्ली कौंसिल जैसे मुसलमानों के संयुक्त प्लेटफॉर्म्स के नेतृत्व में भी काफी सक्रिय थे। मौलाना उन मुस्लिम उलमाओं से बिल्कुल अलग थे, जो कुछ धार्मिक बातों पर विषेश राय रखने के कारण दूसरे मस्लक के मानने वालों से हाथ मिलाने से कतराते हैं।

मौलाना के लिए उनके धार्मिक दृष्टिकोण ने मुसलमानों की एकता के लिए काम करने और सभी मुस्लिम संगठनों के साथ खड़े होने की शक्ति प्रदान की। ई. अबूबकर ने मुस्लिम समुदाय के विभिन्न प्लेटफॉर्म्स पर स्वर्गीय मौलाना के साथ बिताए हुए लमहों को याद करते हुए उनके निधन को व्यक्तिगत सदमा बताया है। उन्होंने कहा कि मौलाना अब्दुल वहाब खिलजी साहब पाॅपुलर फ्रंट की गतिविधियों में सहयोग पर खुश थे।

Top Stories